Create

आईपीएल 2019: प्रत्येक टीम का एक विदेशी खिलाड़ी जिन्होंने इस सीजन खराब प्रदर्शन किया

Enter caption

ईपीएल में विदेशी खिलाड़ियों का हमेशा से बोलबाला रहा है। क्रिस गेल, एबी डीविलियर्स, लसिथ मलिंगा, डेविड वॉर्नर जैसे खिलाड़ी प्रतिवर्ष अपने शानदार प्रदर्शन से अपने टीम का नाम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध करते हैं। इस सीजन के आईपीएल में शायद ही ऐसा कोई रिकॉर्ड बचा हो जिस पर विदेशी खिलाड़ियों का कब्जा न हो। ऑरेंज कैप डेविड वॉर्नर, पर्पल कैप कगिसो रबाडा के पास, सबसे अधिक छक्के लगाने का रिकॉर्ड आंद्रे रसेल के पास है।

इस साल कई विदेशी खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टो, जोफ्रा आर्चर और सैम करन, दक्षिण अफ्रीका के कगिसो रबाडा, वेस्टइंडीज के आंद्रे रसेल ने इस सीजन अपना छाप छोड़ा है लेकिन वहीं कई ऐसे भी विदेशी खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने अपने टीम को तो निराश किया ही है साथ ही अपने समर्थकों को भी निराश किया है।

आज हम आपको प्रत्येक टीम के ऐसे ही 1 विदेशी खिलाड़ियों के बारे में बात करने जा रहे हैं जिन्होंने इस सीजन खराब प्रदर्शन किया है।

#8. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर- शिमरोन हेटमायर:

Enter caption

शिमरोन हेटमायर ने इस सीजन बेहद खराब प्रदर्शन किया है। उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने इस सीजन के ऑक्शन में 4.2 करोड़ रुपये की बड़ी कीमत पर खरीदा था। शिमरोन हेटमायर ने इस सीजन 4 मैचों में हिस्सा लिया। वे पहले 3 मैचों में मात्र 15 रन ही बना सके थे। जबकि चौथे मैच में उन्होंने 75 रनों की पारी खेली थी। वह मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का आखिरी लीग मैच था।

#7. राजस्थान रॉयल्स- बेन स्टोक्स:

Enter caption

ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को पिछले साल राजस्थान रॉयल्स ने 12.5 करोड़ रुपये की बड़ी कीमत पर खरीदा था। उन्हें इस साल इसी कीमत ओर रिटेन भी किया गया था लेकिन बेन स्टोक्स ने दोनों सीजन खराब प्रदर्शन किया। उन्होंने इस सीजन 9 मैचों में 20.50 की औसत से 123 रन बनाए, जबकि गेंदबाजी करते समय 31.50 की औसत से 6 विकेट ही चटका सके। वे गेंदबाजी में काफी मंहगे साबित हुए। उन्होंने इस सीजन 11.22 रन प्रति ओवर की दर से रन खर्च किए।

#6. किंग्स इलेवन पंजाब- डेविड मिलर:

Enter caption

दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज डेविड मिलर ने इस सीजन जब पहला मैच खेला था, तब उन्होंने अर्धशतक लगाया था। लेकिन उसके बाद उनका फॉर्म बिगड़ता ही चला गया डेविड मिलर के खराब फॉर्म से किंग्स इलेवन पंजाब टीम की मध्यक्रम बल्लेबाजी एकदम बिगड़ गई। डेविड मिलर ने इस सीजन 10 मैचों में हिस्सा लिया, जिसमें उन्होंने 26.6 की औसत से 213 रन बनाए , जबकि उनका स्ट्राइक रेट 129 का रहा है।

#5. कोलकाता नाइट राइडर्स- लोकी फर्ग्यूसन:

Enter caption

कीवी तेज गेंदबाज लोकी फर्ग्यूसन ने इस सीजन बेहद खराब प्रदर्शन किया। जबकि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वे न्यूजीलैंड की ओर से शानदार प्रदर्शन करते हैं। लोकी फर्ग्यूसन इससे पहले राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। जब कोलकाता नाइटराइडर्स ने मिचेल स्टार्क को रिलीज किया इसके बाद उन्हें एक तेज गेंदबाज की जरूरत थी जो डेथ ओवरों में अच्छी गेंदबाजी कर सकता हो , इसीलिए उन्होंने लोकी फर्ग्यूसन को खरीदा। लेकिन लोकी फर्ग्यूसन टीम की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाए। लोकी फर्ग्यूसन इस सीजन 5 मैचों में मात्र 2 विकेट ही चटका सके, जबकि उनकी इकोनॉमी 10.76 की रही है।

#4. सनराइजर्स हैदराबाद- केन विलियम्सन:

Enter caption

केन विलियम्सन ने इस सीजन 9 मैचों में 156 रन बनाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 124.55 का रहा है।सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन पिछले सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज थे लेकिन इस सीजन उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा है। उन्होंने मात्र 1 मैच में ही अच्छी पारी खेली थी यह उनका अंतिम लीग मैच था। उन्होंने उस मैच में 70* रन की नाबाद पारी खेली थी लेकिन यह मैच भी सनराइज़र्स हैदराबाद टीम हार गई थी।

#3. दिल्ली कैपिटल्स - कॉलिन इन्ग्राम:

Enter caption

दक्षिण अफ्रीकी टी20 क्रिकेटर कॉलिन इंन्ग्राम को इस सीजन के ऑक्शन में दिल्ली कैपिटल्स ने 5 करोड़ की बड़ी कीमत पर खरीदा था लेकिन उन्होंने इस सीजन निराशाजनक प्रदर्शन किया है। इंन्ग्राम ने इस सीजन 12 मैचों में 18.4 की औसत से 184 रन बनाए हैं। उनकी बल्लेबाजी क्षमता को ध्यान में रखते हुए टीम मैनेजमेंट ने उन्हें इतने मौके दिए थे। जिस दो मैचों से वे बाहर थे उसका कारण यह था कि वे व्यक्तिगत कारणों से स्वदेश लौट गए थे।

#2. चेन्नई सुपर किंग्स- शेन वॉटसन:

Enter caption

शेन वॉटसन का खराब फॉर्म चेन्नई सुपर किंग्स टीम के लिए चिंता का विषय है। वे प्लेऑफ के पहले क्वालीफायर मुक़ाबले में भी मात्र 10 रन बनाकर आउट हो गए थे। शेन वॉटसन ने पिछले सीजन 2 शतकों के साथ 39.64 की औसत से 555 रन बनाए थे लेकिन इस सीजन अगर 2 मैचों को छोड़ दें तो उन्होंने किसी मैच में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। सलामी बल्लेबाज शेन वॉटसन ने इस सीजन 15 मैचों में 18.85 की औसत से 284 रन बनाए हैं।

#1.मुंबई इंडियंस- मिचेल मैक्लेनेघन:

Enter caption

कीवी तेज गेंदबाज मिचेल मैक्लेनेघन सीजन पहले मैच के अलावा सभी मैचों में फ्लॉप दिखे हैं। मिचेल मैक्लेनेघन नेइस सीजन कुल 4 मैचों में हिस्सा लिया है जिसमें उन्होंने मात्र 3 विकेट चटकाए हैं। यह 3 विकेट उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ चटकाए थे। इस सीजन मिचेल मैक्लेनेघन की गेंदबाजी इकोनॉमी 8.42 की रही है।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment