Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

डेविड मिलर (David Miller)


ABOUT
BATTING STATS

GAME TYPE M INN RUNS BF NO AVG SR 100s 50s HS 4s 6s CT ST
ODIs 129 111 3127 3107 32 39.58 100.64 5 13 139 231 87 60 0
T20s 78 68 1409 1018 20 29.35 138.41 1 2 101 96 61 58 1
BOWLING STATS

GAME TYPE M INN OVERS RUNS WKTS AVG ECO BEST 5Ws 10Ws
ODIs 129 0 0 0 0 0 0 0 0
T20s 78 0 0 0 0 0 0 0 0
ABOUT

दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर डेविड मिलर का जन्म 10 जून 1989 को पीटरमारित्जबर्ग में हुआ था। वह दक्षिण अफ्रीका टीम के सबसे बेहतरीन बाएं हाथ के बल्लेबाजों में से एक हैं। डेविड मिलर एक ऐसे परिवार में पले बढ़े हैं, जिसमें उनके पिता क्लब स्तर के क्रिकेटर रहे हैं। यहीं से उन्हें अपने क्रिकेट को आगे बढ़ाने का मौका मिला।



अपने करियर के शुरुआती समय के दौरान डेविड ने डॉल्फिन के लिए खेला। बाद में उन्होंने डरहम, ग्लैमरगन, क्वाज़ुलु नेटाल, यॉर्कशायर, किंग्स इलेवन पंजाब, चटगाँव वाइकिंग्स, उथल रुद्रस, नाइट्स, सेंट लूसिया स्टार्स, ब्लेम सिटी ब्लेज़र्स और वर्ल्ड-11 जैसी टीमों का प्रतिनिधित्व किया।


वह बांग्लादेश के दौरे पर दक्षिण अफ्रीका ए टीम का हिस्सा रहे थे। उस दौरे में उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया और उन्हें 2010 में घायल वेन पर्नेल की जगह दक्षिण अफ्रीकी टीम में जगह मिल गई।


दक्षिण अफ्रीका के पालनहार बने

मई 2010 में अपने पहले टी-20 मैच में डेविड मिलर ने 26 गेंदों पर 33 रन बनाए। यह मैच प्रोटियाज़ टीम ने अंततः एक रन से जीत लिया था। टी-20 में उनके शानदार प्रदर्शन की वजह से वनडे टीम में भी जगह मिल गई। उन्होंने 2010 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना पहला वनडे मैच खेला। पहले दो मैचों में उनके शानदार बल्लेबाजी कौशल ने दक्षिण अफ्रीका को मुश्किल लक्ष्य हासिल करने में मदद की। उनकी वजह से दक्षिण अफ्रीका मैच जीतने में सफल रहा। उल्लेखनीय प्रदर्शन के कारण उन्हें दक्षिण अफ्रीका की 2011 आईसीसी क्रिकेट विश्वकप की प्रारंभिक टीम में रखा गया था।


खुले विश्वकप के रास्ते

डेविड मिलर ने 15 फरवरी 2015 को जिम्बाब्वे के खिलाफ विश्वकप में पदार्पण किया, जहां उन्होंने शतक लगाया। इस तरह वह गैरी कर्स्टन के बाद विश्वकप की शुरुआत में शतक बनाने वाले दूसरे दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज बन गए। न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में वह अर्धशतक बनाने से चूक गए लेकिन उनके खेल की जमकर तारीफ हुई।


आईपीएल में विस्फोटक शतक बनाकर बन गए किलर मिलर

2013 के इंडियन प्रीमियर लीग में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए मिलर ने मोहाली में महज 38 गेंदों में नाबाद 101 रन बनाकर आईपीएल का तीसरा सबसे तेज शतक बनाया। इसके बाद वह अपने प्रशंसकों के बीच किलर मिलर के रूप में पहचाने जाने लगे। हालांकि, टीम के खराब प्रदर्शन के साथ उन्हें बाद में कप्तानी से हटा दिया गया।


इसके बाद डेविड मिलर ने 2017 में बांग्लादेश के खिलाफ टी20 मैच में सिर्फ 35 गेंदों पर शतक बनाकर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया।

Fetching more content...