Create
Notifications

बिना दौड़ लगाए वजन करें कम और बर्न करें कैलोरीज: Bina Daud Lagaye Wajan Karein Kam Aur Burn Karein Calories

फोटो: Pexels
फोटो: Pexels
Amit Shukla
ANALYST

इंसान को हमेशा आगे बढ़ते रहना चाहिए। ये बात फिलॉसफी के आधार पर जितनी सही है उतनी ही इस आधार पर भी कि आपका जीवन इस बात से निर्धारित होता है कि आप अपने जीवन में क्या करते हैं। अगर सही मायनों में देखा जाए तो कई लोग सिर्फ सुबह आठ बजे तक सोते हैं और फिर ये सोचते हैं कि वो ऑफिस के लिए लेट कैसे हो गए।

ये भी पढ़ें: एक योगासन जो आपको दे अच्छी सेहत और मजबूत दिमाग: Ek Yogasan Jo Aapko De Acchi Sehat Aur Majboot Dimaag

इस बात का ध्यान रखें कि जो वक्त के साथ नहीं चला, वक्त उसके साथ नहीं चला। ये चलना ही जीवन है और चलते रहना ही इंसान का काम है। हिंदी फिल्म 'शोर' में अद्भुत गायक मुकेश जी ने भी एक गीत के बोलों को अपनी आवाज दी है जो इस प्रकार हैं 'जीवन चलने का नाम, चलते रहो सुबह और शाम।'

बिना दौड़ लगाए कम करें वजन और बर्न करें कैलोरीज: Burn Calories and lose weight without running in hindi

इस यादगार गीत के बोल होने के बावजूद हम एक गलती करते हैं। वो गलती ये है कि हम कभी भी चलते नहीं हैं। अगर हमें अपने घर से दो गली पीछे भी जाना होता है तो हम गाड़ी पर बैठ जाते हैं। ऐसा क्यों है कि हम सबकी सेहत और इम्यूनिटी खराब हो रही है और हम बीमारियों का शिकार हो जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें: दिन में नींद आने की समस्या को करें दूर वरना सेहत को कर लेंगे खराब: Din Mein Neend Aane Ki Samasya Ko Karein Door Warna Seht Ko Kar Lenge Kharaab

क्यों होते हैं हम मोटे?: Why do we become fat?

जब शरीर में फैट जमा होगा तो आप फैट ही होंगे। हम सब खाने के मामले में अपनी जबान की लज्जत पर ध्यान देते हैं लेकिन उसकी वजह से सेहत को हो रहे नुकसान पर हमारा ध्यान नहीं जाता है। जबान को लज्जत देने वाली चीज कभी भी सेहतमंद नहीं हो सकती है, लेकिन सेहतमंद चीज लज्जतदार हो सकती है।

कैसे बर्न करें कैलोरीज?: How do we burn calories?

कैलोरीज के बढ़ने से सेहत को नुकसान होता है लेकिन इसके बर्न होने से सेहत को फायदा होता है। अगर आप और कुछ नहीं कर सकते हैं तो कम से कम चलने की आदत ड़ालें। लिफ्ट का इस्तेमाल एकदम बंद कर दें और चाय एवं कॉफी की मात्रा भी कम कर दें। जबान को लज्जत नहीं, शरीर को सेहत दें।

क्या होना चाहिए डाइट प्लान: What should be the diet plan?

खाना खाना भी एक कला है। खाने का आनंद लें और उसे कम से कम 32 बार चबाएं। अगर आप खाने को नहीं चबा रहे हैं तो उससे आपके पेट को ज्यादा काम करना पड़ेगा। खाने में फाइबर को बढ़ाएं और हर समय ना खाएं। खाने के एक घंटे पहले ना तो कुछ खाएं और ना ही पिएं। ये वो समय होना चाहिए जब आपका शरीर भूख के लिए तैयार हो। खाने से एक घंटा पहले पानी पी लें।

ये भी पढ़ें: आँखों की रौशनी को ठीक करने के लिए करें ये आसान से एक्सरसाइज: Aankhon Ki Raushani Ko Theek Karne Ke Liye Karein Ye Aasan Se Exercise

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now