Create
Notifications

एक योगासन जो आपको दे अच्छी सेहत और मजबूत दिमाग: Ek Yogasan Jo Aapko De Acchi Sehat Aur Majboot Dimaag

फोटो: Knot9 YouTube
फोटो: Knot9 YouTube
Amit Shukla
ANALYST

योग (Yog) को हम सब करते हैं पर अगर आप किसी कारण वश इसे नहीं कर रहे हैं तो आज ही इसको करने की आदत ड़ालें। वैसे जीवन में आप जो भी कर रहे होते हैं उस दौरान आप योग जरूर कर रहे होते हैं। ऐसा माना जाता है कि किसी भी योग को दौड़कर करने की बजाय उसके लिए एक जगह पर बैठकर मुद्राओं को करना ज्यादा लाभकारी है।

ये भी पढ़ें: भस्त्रिका प्राणायाम करने का तरीका और फायदे: Bhastrika Pranayama Karne Ka Tarika Aur Fayde

ऐसे कई लोग हैं जो योग को जीवन का हिस्सा बना चुके हैं और इसको किए बिना उनका दिन शुरू नहीं होता है। ये एक अच्छा कदम है और ऐसा ही होना चाहिए। योग को निरोग रखने के लिए जाना जाता है, मतलबा आपके शरीर में कोई भी बीमारी हो उसे योग से ठीक किया जा सकता है। एक ऐसा आसन है जो शरीर के पावरहाउस को बेहतर कर देता है। आइए आपको उसके बारे में बताते हैं।

एक योगासन जो आपको दे अच्छी सेहत और मजबूत दिमाग: One Yogasan For Good Health And Powerful Mind

कौन सा योगासन: कपालभाति (Kapaalbhaati)

कपालभाति का नाम आपने बहुत सुना होगा। इसको करने का प्रयास हर कोई करता है लेकिन उसको करते समय कोई ना कोई गलती तो जरूर होती है। अगर आप भी इसे करते हैं तो आपको लगता होगा कि आप तो सही तरीके से आसन को कर रहे हैं, फिर भी प्रभाव क्यों नहीं मिल रहे हैं। आइए आपकी गलतियों के बारे में हम बताते हैं।

ये भी पढ़ें: आँखों की रौशनी को ठीक करने के लिए करें ये आसान से एक्सरसाइज: Aankhon Ki Raushani Ko Theek Karne Ke Liye Karein Ye Aasan Se Exercise

आसन को करने का तरीका : Method to do the aasan

  • जमीन पर या योग मैट पर बैठ जाएं
  • अब दाएं पैर को मोड़ें और उसके बाद उसे बाएं पैर के ऊपर रख लें। यही क्रम दूसरे पैर के साथ दोहराएं।
  • इस स्थिति को पालथी मारना कहते हैं लेकिन इसको हम सब कई बार बेहद रिलैक्स तरीके से करते हैं।
  • अब इस बात का ध्यान रखें कि आपके पेट और नाक के छिद्रों के बीच में उलटा अनुपात होगा।
  • इसका मतलब है कि साँस को छोड़ते समय आपका पेट अंदर जाएगा और साँस खींचते समय पेट अंदर की जगह बाहर।
  • इसको स्पीड से करने लगेंगे तो ये भस्त्रिका प्राणायाम हो जाएगा।
  • इस आसन को करते समय पेट खाली होना चाहिए और अगर संभव हो तो सुबह सुबह इसे करें।
  • इस आसन को करते समय सूरज का उदय होते हुए देखना या महसूस करना बेहद अच्छा माना जाता है।
  • खाली पेट आसन करें, इसमें कोई भी गलती ना करें वरना पेट के अंदर मौजूद तत्व मुँह से बाहर भी आ सकते हैं।

किन्हें नहीं करना चाहिए:

प्रेग्नेंट महिलाएं, स्लिप डिस्क, और कोई सर्जरी करवा कर आए लोग इसको ना करें। अगर आपको हर्निया है या शुगर ट्यूबरक्लॉसिस है तो आपको इस आसन को नहीं करना चाहिए। ऐसे कई लोग हैं जिनकी हड्डियों में दिक्कत होती है, उन्हें भी इससे बचना चाहिए। अगर पीठ में बहुत दर्द है तो इस आसन को ना करें। पीठ के दर्द को ठीक करने के लिए आप भुजंगासन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: कंप्यूटर के ज्यादा इस्तेमाल से होने वाले 5 नुकसान: Computer Ke Jyada Istemaal Se Hone Wale 5 Nuksaan

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now