Create
Notifications

दिन में नींद आने की समस्या को करें दूर वरना सेहत को कर लेंगे खराब: Din Mein Neend Aane Ki Samasya Ko Karein Door Warna Seht Ko Kar Lenge Kharaab

फोटो: Online Wellness
फोटो: Online Wellness
Amit Shukla
ANALYST

दिन में सोने (Daytime sleep) की एक आदत हम सबको होती है। ऐसे कई शहर हैं जहाँ लोग दिन में सो जाते हैं और वहाँ दिन में कोई भी बाहर नहीं निकलता है। ऐसा नहीं है कि ये नियम पूरी तरह से लागू होता है लेकिन ऐसी एक जगह है जहाँ पर लोग बेहद कम ही बाहर जाते हैं और वो दिन में सोते हैं।

ये भी पढ़ें: एक योगासन जो आपको दे अच्छी सेहत और मजबूत दिमाग: Ek Yogasan Jo Aapko De Acchi Sehat Aur Majboot Dimaag

खाना खाने के बाद ऐसे कई लोग हैं जिन्हें नींद आती है। ये बात समझ में आती है क्योंकि खाना खाने के बाद आपके शरीर के अंदर मौजूद स्लीप सेल्स एक्टिव हो जाते हैं। अगर आप बीमार हैं तो कोई बात नहीं है लेकिन उसके अलावा दिन में सोना सही नहीं है। आइए आपको बताते हैं कि ऐसा क्यों नहीं करना चाहिए और इसको रोकने के क्या तरीके हैं।

दिन में नींद आने की समस्या को करें दूर वरना सेहत को कर लेंगे खराब: Daytime Sleepiness Prevention Tips in hindi

क्यों आती है दिन में नींद?: Why do we feel daytime sleep?

ये एक बड़ा सवाल है क्योंकि दिन में नींद आनी ही नहीं चाहिए। अगर आपको दिन में नींद आ रही है तो इसका मतलब है कि आपका नींद का तंत्र खराब हो रहा है। आप या तो मोबाइल एडिक्शन, टीवी एडिक्शन या ऐसी ही किसी अन्य परेशानी से दो चार हो रहे हैं जिसकी वजह से ऐसा हो रहा है। स्ट्रेस और एंजाइटी भी एक प्रमुख कारण हो सकते हैं।

नींद को कैसे करें नियंत्रित?: How to control sleep?

नींद के लिए आपको सबसे पहले तो अपने मोबाइल का एडिक्शन छोड़ना होगा। फोन को अपने आसपास ना रखें और खुद को किसी भी तरह से ऐसी परेशानी में ना लाएं जहाँ दिक्कत हो। स्ट्रेस और एंजाइटी हो रही हो और उसकी वजह से नींद ना आ रही हो तो अनुलोम विलोम कर लें, नींद जल्दी आ जाएगी। अगर आपको किताबें पढ़ना नहीं पसंद है तो उसे उठाकर पढ़ने लगें। इससे रात में आपको जल्दी नींद आ जाएगी।

ये भी पढ़ें: भस्त्रिका प्राणायाम करने का तरीका और फायदे: Bhastrika Pranayama Karne Ka Tarika Aur Fayde

दिन में नींद आने की परेशानी को कैसे करें दूर?: How to get rid of daytime sleep?

सबसे पहले तो दिन की शुरुआत चाय से ना करें। जी हाँ, कई लोगों को लगता है कि चाय से नींद भागती है जबकि ऐसा नहीं है। नींद के लिए एक कैटेलिस्ट का काम करती है चाय। सुबह एक्सरसाइज करें और अगर आप एक्सरसाइज बीमारी के कारण नहीं कर सकते हैं तो योग करें पर खुद को 'काउच पोटेटो' ना बनाएं।

क्या खाना खाने से आती है नींद?: Do you feel sleepy because of food?

खाना तो शरीर को ऊर्जा देता है। उससे नींद भी आती है लेकिन जब आपकी रात में नींद ना पूरी हुई हो तो आपका दिमाग शरीर को रेस्ट करने के लिए कहता है। ऐसा करते ही आपको नींद आने लगती है। खाना खाने के बाद बिस्तर पर ना लेटें और अगर हो सके तो थोड़ा वाक जरूर करें फिर चाहे वो आपके ऑफिस का पार्किंग स्पेस ही क्यों ना हो।

तरक्की और सेहत के लिए नुकसानदेह: Hinders with growth and health

सेहत और तरक्की दोनों के लिए दिन में सोना नुकसानदेह है। ऐसे कई लोग हैं जो दिन में भी सोते हैं और रात में भी और फिर दूसरे की तरक्की से जलते हैं। जलने से कोई फायदा नहीं होगा। आप अपनी आदतों को सुधार लीजिए आपकी परेशानी अपने आप ही दूर हो जाएगी।

ये भी पढ़ें: आँखों की रौशनी को ठीक करने के लिए करें ये आसान से एक्सरसाइज: Aankhon Ki Raushani Ko Theek Karne Ke Liye Karein Ye Aasan Se Exercise

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now