Create

गिलोय और नीम के रस से डायबिटीज के रोगी पाएंगे आराम: Giloy aur Neem ke ras se diabetes ke rogi payenge aaram

फोटो: नवभारत टाइम्स
फोटो: नवभारत टाइम्स
Amit Shukla

नीम और गिलोय का एक साथ आना मतलब सेहत का ठीक होना मुमकिन है। नीम एक ऐसा पेड़ है जिसकी पत्तियों से लेकर छाल और जड़ों तक सबकुछ सेहत के लिए लाभकारी है। गिलोय को तो वैसे ही अमृत कहा जाता है और मौजूदा समय में जब कोरोनावायरस इतनी तेजी से फैल रहा है तो ऐसे में इन दोनों का सेवन करना बेहद अच्छा होगा।

ये भी पढ़ें: कोरोनावायरस से परेशान हैं तो इस डाइट का पालन करें: Coronavirus se pareshaan hain to is diet ka paalan karein

इस समय के दौर में उन लोगों के लिए परेशानी बढ़ जाती है जिन्हें कोई ऐसी बीमारी हो जिसका इलाज जल्द मुमकिन ना हो, जैसे कि डायबिटीज। आपको अपने इन्सुलिन लेवल को कंट्रोल में रखना होता है और इस दौरान आपको अपनी सेहत के साथ साथ खाने पर भी ध्यान देना पड़ता है।

ये भी पढ़ें: इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए खाएं हलवा: Immunity ko badhaane ke liye khaayein halwa

यदि ये आपकी भी परेशानी है तो इस आर्टिकल में हम आपको जिन फायदों के बारे में बताने वाले हैं उनको जानने के बाद आप गिलोय और नीम का सेवन शुरू कर देंगे। वैसे भी गिलोय से ज्यादा लाभकारी इस समय कुछ अगर है तो वो है नीम। आइए इन दो अद्भुत चीजों के मेल से होने वाले फायदों पर नजर ड़ालते हैं।

गिलोय और नीम के रस से डायबिटीज के रोगी पाएंगे आराम

नीम की पत्ती का पाउडर करेगा इंसुलिन का काम

नीम की पत्तियों को चबाने की सलाह आयुर्वेद में दी गई है। यदि आप इसका सेवन करते हैं या फिर इसको एक पाउडर के रूप में बनाकर उसका इस्तेमाल करते हैं तो आप अपने इंसुलिन लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप अपना ध्यान रखें क्योंकि सेहत है बेहद जरूरी।

नैचुरल इम्यूनिटी बूस्टर

नीम और गिलोय के मिश्रण से बनने वाला जूस आपके शरीर के लिए इम्यूनिटी बूस्टर है। इसका स्वाद कड़वा हो सकता है लेकिन फायदे बेहद मीठे होंगे। आप भले ही डायबिटीज के मरीज हों लेकिन फिर भी इसके सेवन से आपको कोई दुष्प्रभाव नहीं देखने को मिलेंगे। ये सेहत के लिए अच्छा है और आपके लिए एक वरदान।

नीम है हर वायरस की दवा

जब आपको फोड़े या फुंसी हो जाती थी तो लोग नीम की पत्तियों का लेप लगाने को कहते थे और वो आपके लिए फायदेमंद भी होता था। इसी तरह से नीम की पत्तियों में मौजूद ट्राइटरपेनॉइड, एंटी वायरल यौगिकों, फ्लेवेनॉइड्स और ग्लाइकोसाइड्स आपके शरीर को मधुमेह के साथ साथ हर प्रकार के वायरस से भी बचाता है।

ये भी पढ़ें: डायबिटीज मेलिटस से बचने के लिए ये करें: Diabetes Mellitus se bachne ke liye ye karein


Edited by Amit Shukla

Comments

Fetching more content...