पुनर्नवारिष्ट के फायदे: Punarnavarishta Ke Fayde

फोटो: Style Craze
फोटो: Style Craze

पुनर्नवारिष्ट को अमूमन हिंदी में एक अन्य कारण से जाना जाता है जिसका अर्थ होता है किसी भी चीज का एक से ज्यादा बार होगा। इसका ये अर्थ नहीं है कि गलतियों को इसका हिस्सा नहीं बनाया जा सकता है लेकिन यहाँ पर हम हिंदी नहीं बल्कि सेहत के बारे में बात करने वाले हैं जो बेहद जरूरी है।

ये भी पढ़ें: मधुमेह रोगियों के खाने के लिए फल की सूची: Madhumeh Rogiyon Ke Khaane Ke Liye Fal Ki Soochi

आज कल जो भी खाना हम खा रहे हैं वो चाहे घर में हो या फिर किसी रेस्टोरेंट में, हर जगह पर सिर्फ बेईमानी ही देखने को मिलती है। यही वजह है कि खाने में मिलावट होती है और आपको काफी परेशानी पेश आती है। इस खराब स्तर के भोजन या बाजार में मिल रहे भोजन के कारण हम अपनी सेहत को रिस्क में ड़ाल रहे हैं।

इनमें ऐसी कई बीमारियाँ हाल फिलहाल में ही हुई हैं जिनके कारण काफी बड़ा बदलाव और उससे भी बड़ी परेशानियाँ देखने को मिली हैं। इसको ध्यान में रखते हुए आपको ये बताते हैं कि अगर आपके शरीर में विकार है तो पुनर्नवारिष्ट उसका उपचार है और उससे आपको क्या लाभ हो सकते हैं।

पुनर्नवारिष्ट के फायदे

किडनी स्टोन को खत्म करे - अगर आप थोड़ा बहुत भी अपने बड़े बुजुर्गो के साथ बैठे होंगे तो आपने पत्थरचटवा का नाम सुना होगा। ये एक ऐसा पौधा है जिसके इस्तेमाल से किडनी स्टोन को खत्म किया जा सकता है। ये कोई भ्रामक बात नहीं है क्योंकि इसके बारे में आयुर्वेद में भी जानकारी दी गई है। अगर आपको ये नहीं मिलता है तो आप पुनर्नवारिष्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये आसानी से उपलब्ध है और किडनी स्टोन को खत्म करने में कारगर है।

ये भी पढ़ें: जानिए कैसे करें घर बैठे फुल बॉडी एक्सरसाइज बिना पैसा खर्च करे

घुटनों के दर्द को खत्म करे - घुटने में दर्द अमूमन बुजुर्गों को होता है लेकिन बदली जीवनशैली में ये बच्चों के साथ साथ बड़ों में भी देखने को मिला है। ऐसे में आप पुनर्नवारिष्ट को अदरक एवं कपूर के साथ इस्तेमाल करें। इससे आपको तुरंत प्रभाव दिखना शुरू हो जाएगा जो बेहद जरूरी है।

पीलिया को हटाने में मददगार - पीलिया होने पर परेशानी बढ़ जाती है लेकिन अगर आप चाहें तो पुनर्नवारिष्ट के पत्ते, फल एवं फूल को शहद या मिश्री में मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं। इससे आपको काफी लाभ होगा जो एक अच्छी बात है और आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए।

ये भी पढ़ें: जानिए कैसे पालतू जानवर करता है आपकी हेल्थ और फिटनेस को बेहतर

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla