मानसिक स्वास्थ्य: सेरोटोनिन कैसे बढ़ाए

मानसिक स्वास्थ्य
मानसिक स्वास्थ्य

सेरोटोनिन शरीर में अच्छी भावनाओं को प्रवाहित करता है। इसके होने से जीवन में अच्छे अनुभव होते हैं और मन में अच्छे ख्याल आते हैं। यही वजह है कि आपको हर कोई ये कहता हुआ सुनाई देता है कि अगर इंसान अच्छा सोचेगा तो सब सही होगा। सही सोच के लिए सही तरीके के काम करना जरूरी है। आज के दौर में हम सब इन बातों को भूल जाते हैं जिसकी वजह से सेरोटोनिन का प्रवाह नहीं होता है और शरीर में परेशानियाँ आती हैं।

ये भी पढ़ें: #mansik tanav ke karan: मानसिक तनाव के कारण

सेहत के लिए दिमाग का सही काम करना जरूरी हैं और अगर आप चाहते हैं कि सेरोटोनिन का प्रवाह सही हो तो आपको ना तो कभी बोरियत महसूस होगी और ना ही मन चिड़चिड़ा होगा। ऐसा इसलिए हैं क्योंकि सेरोटोनिन आपको बेहद खुशी प्रदान करता हैं। जब आपके शरीर में अच्छी चीजों को प्रदान किया जाता है तो उससे आउटपुट भी अच्छा ही मिलता है।

ये भी पढ़ें: #benefits of walking for good mental Health: सुबह-शाम इसलिए चलना चाहिए पैदल

यही वजह है कि ऐसे कई खाने हैं जिनका इस्तेमाल करके आप सेरोटोनिन को बढ़ा सकते हैं। यदि किसी वजह से आपका शरीर इन्हें बहुत बढ़ा नहीं सकता तो भी ये एक खराब स्थिति में नहीं आने देता है। आप ये जानते हैं कि शरीर के चलने के लिए एक अच्छी सेहत और बेहतर दिमाग होना जरूरी है।

ये भी पढ़ें: सर के बाल की लंबाई को बढ़ाने के लिए इनको अपने खानपान का हिस्सा बनाएं

सेरोटोनिन को कैसे बढ़ाया जाए

सेरोटोनिन को कैसे बढ़ाया जाएको सही मात्रा में प्राप्त करने के लिए आप सालमोन का प्रयोग कर सकते हैं। इसके साथ साथ चिकेन के इस्तेमाल से भी सेरोटोनिन को बढ़ाया जा सकता है। अंडों का इस्तेमाल भी सेरोटोनिन को बढ़ाने में मददगार है। यदि आप किसी भी प्रकार के सीड्स का इस्तेमाल करते हैं तो उससे भी सेरोटोनिन को बढ़ाने में मदद मिलती है।

सेरोटोनिन के सही रूप में होने के लिए आप मिल्क, सोया के प्रोडक्ट और नट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। सेरोटोनिन दिमाग की सेहत के लिए जरूरी है और अगर आपके शरीर में सेरोटोनिन होगा तो आपको कभी भी खराब नहीं लगेगा। वैसे भी जब दिमाग सही हो तो इंसान को किसी भी तरह की परेशानी पेश नहीं आती है।

Edited by Amit Shukla