Create
Notifications

शतावरी चूर्ण के 3 फायदे: Shatavari Churna ke 3 Fayde

फोटो: 1mg
फोटो: 1mg
Amit Shukla
visit

शतावरी के बारे में बेहद कम लोगों ने ही सुन रखा होगा। ये एक आयुर्वेदिक दवाई है जो एक साथ शरीर के कई रोगों एवं परेशानियों को ठीक कर सकती है। अगर आपको कोई शारीरिक कमजोरी महसूस होती है और आप अपनी पावर को बढ़ाना चाहते हैं तो आप इसके चूर्ण का सेवन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: सुबह खाली पेट अखरोट खाने के 3 फायदे: Subah khali pet akhrot khaane ke 3 fayde

शरीर के अंदर कई प्रकार के अंग है और सबका अपना महत्व है। पेट इसमें एक अहम अंग है क्योंकि उसमें जाने वाला खाना ही आपके शरीर को लगता है। एक कहावत भी है कि सिर्फ जो खाया पिया है वही आपके साथ जाएगा और बाकी कुछ भी होगा तो वो यहीं रह जाएगा। इसलिए पेट की सेहत को ठीक रखना जरूरी है।

पेट से ही शरीर के ज्यादातर रोग शुरू होते हैं। आप किसी भी स्थिति में खुद को परेशान नहीं करना चाहेंगे और इसलिए पेट का ध्यान आपको रखना ही चाहिए। आइए इसको ध्यान में रखते हुए शतावरी चूर्ण के उन फायदों के बारे में बताते हैं जिनके बारे में आप नहीं जानते होंगे और जिन्हें जानना आपके लिए बेहद जरूरी है।

शतावरी चूर्ण के 3 फायदे

पेट की सेहत करे ठीक

पेट में अगर खाना पचता नहीं है या उसमें कीड़े हैं तो आपको परेशानी होगी जो एक अच्छी बात नहीं है। ऐसे में आपको अपना ध्यान रखना चाहिए और शतावरी चूर्ण आपके पेट को ठीक तरह से साफ करता है। इससे पेट में मौजूद सभी कीटाणु मर जाते हैं और आपको एक फिट शरीर प्राप्त होता है।

ये भी पढ़ें: Shilpa Shetty Kundra ने कोरोनावायरस की वैक्सीन लगवाने जा रहे लोगों के लिए दिए कुछ टिप्स, आप भी जानें

खांसी को ठीक करे

खांसी के समय में शतावरी चूर्ण को पानी में मिलाएं या ऐसे ही खा लें। इसके ऊपर आप पानी पी सकते हैं। इससे आपको लाभ होगा और शरीर भी अच्छा महसूस करेगा। आपका पाचन और स्वसन तंत्र ही सेहत के लिए बेहद जरूरी है। ऐसे में अगर आप अपना ध्यान रखते हैं तो आपको फायदा होता है।

डिहाइड्रेशन को रोके

पानी की कमी के कारण होने वाले डिहाइड्रेशन को भी ये चूर्ण रोकता है। पानी की बर्बादी दस्त के दौरान भी होती है और ये चूर्ण दस्त के मरीजों को भी आराम दिलाती है। ऐसे में आप इसका सेवन करके निरोगी काय के मालिक बन सकते हैं जो एक अच्छी बात है और आपको इसका ध्यान रखना चाहिए।

ये भी पढ़ें: बकरी का दूध कच्चा पीना चाहिए या गर्म करके: Bakri ka doodh kaccha peena chahiye ya garm karke

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Amit Shukla
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now