मेंटल हेल्थ के बारे में बात क्यों की जानी चाहिए

मेंटल हेल्थ
मेंटल हेल्थ

मेंटल हेल्थ एक ऐसी जरूरी हेल्थ है जिसके बारे में बात होना आवश्यक है। ऐसा इसलिए भी जरूरी है क्योंकि अमूमन मेंटल हेल्थ को गलत धारणा के साथ देखा जाता है और मेंटल स्थितियों से परेशान लोगों के प्रति लोगों की धारणा काफी अलग है। यहाँ ये ध्यान देना जरूरी है कि यदि आप शरीर के बाकी अंगों की सेहत के बारे में बात कर सकते हैं तो मेंटल हेल्थ पर भी बात की जानी चाहिए।

ये भी पढ़ें: ऑब्सेसिव कम्पलसिव डिसऑर्डर क्या है और इसको नजरअंदाज ना करें

मेंटल हेल्थ पर बातचीत किस कारण से जरूरी है और इसके लिए क्या किया जाना चाहिए जिससे हम सब मेंटल हेल्थ को सही रूप में समझ सकें? यदि आप भी इस सवाल को सोच रहे हैं तो आइए आपको बताते हैं कि इसपर बात क्यों की जानी चाहिए और इसको करने से क्या लाभ होगा।

ये भी पढ़ें: सर के बाल दोबारा से पाने के लिए इन घरेलू चीजों का इस्तेमाल करें

मेंटल हेल्थ के बारे में बात क्यों होनी चाहिए

मेंटल हेल्थ के बारे में बात होने के पीछे प्रमुख कारण हैं:

स्टिग्मा हटाने के लिए

इस आर्टिकल की शुरुआत में हमने इस बारे में बात कही कि कैसे मेंटल हेल्थ को गलत धारणा के साथ देखा जाता है। यदि इसपर लगातार बात होगी तो लोगों के मन में इसको लेकर बनी गलत धारणाएँ खत्म हो जाएंगी जो एक अच्छा कदम है।

मेन्टल हेल्थ से जुड़ी परेशानियाँ बढ़ रही हैं

मेन्टल हेल्थ से जुड़ी परेशानियाँ लगातार बढ़ रही हैं और इसलिए इसके बारे में बात करने से हम इस परेशानी को कम कर सकेंगे। लोगों को एक ऐसा मंच प्रदान किया जाना जरूरी है जिसमें वो अपनी बात को कहने से ना सकुचाएं। एक स्पष्ट माहौल, बेहतर जीवन की कुंजी है।

ये भी पढ़ें: हफ्ते में एक दिन उपवास रखने के फायदे जानकर आप इसको जीवन का हिस्सा बनाएँगे

इलाज की बात करें और सुसाइड को कम कर सकें

जब हम लोगों के मन से मेंटल हेल्थ से जुड़े स्टिग्मा को खत्म कर सकेंगे और साथ ही उन्हें एक बातचीत का मंच देंगे तो आप इसके इलाज पर भी ध्यान दे सकेंगे। इससे लोग अपनी परेशानियों के बारे में बात करने में आराम महसूस करेंगे और इस प्रयास से हम सुसाइड को होने से रोक सकेंगे।

Edited by Amit Shukla