Create

WWE के फिनिशिंग मूव्स से जुड़ी 5 दिलचस्प कहानियां

रैंडी ऑर्टन और अंडरटेकर
रैंडी ऑर्टन और अंडरटेकर
Neeraj sharma

WWE सुपरस्टार्स के पास मैच जीतने के लिए अपना कोई ना कोई फिनिशिंग मूव जरूर होता है। उदाहरण के तौर पर ब्रॉक लैसनर का एफ-5 WWE के इतिहास के सबसे खतरनाक फिनिशिंग मूव्स में से एक है।

अक्सर 2 या 2 से अधिक रेसलर्स को एक ही फिनिशिंग मूव का इस्तेमाल करते देखा गया है। इस बीच मूव्स के चुराए जाने को लेकर सुपरस्टार्स के संबंधों में खटास भी पड़ते देखी गई है। कोई भी सुपरस्टार नहीं चाहेगा कि जिस मूव ने उन्हें कई यादगार जीत दिलाई हों, उसका प्रयोग कोई और करे।

ये भी पढ़ें: WWE के 6 अजीब जोड़ियां जो फैंस को बहुत पसंद आई

WWE के कई फिनिशिंग मूव्स से कई दिलचस्प कहानियां भी जुड़ी हुई हैं। इसलिए आइए जानते हैं WWE के 5 फिनिशिंग मूव्स और उनसे जुड़ी सबसे दिलचस्प कहानियों के बारे में।

ये भी पढ़ें: 5 मौके जब WWE सुपरस्टार्स को आग लगा दी गई

टाइट पैंट्स के कारण WWE चैंपियन ड्रू मैकइंटायर को मिली क्लेमोर किक

क्लेमोर किक मौजूदा समय में WWE के सबसे प्रभावशाली मूव्स में से एक है, जिसका इस्तेमाल ड्रू मैकइंटायर को नियमित रूप से रिंग में करते देखा जाता है। 250 पाउंड से अधिक वजन के रेसलर की इस किक के सामने शायद कोई भी नहीं आना चाहेगा।

लेकिन WWE के साथ अपने पहले सफर के समय मैकइंटायर इस मूव का इस्तेमाल नहीं करते थे। कुछ समय पहले मैकइंटायर, स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन के Broken Skull Sessions पॉडकास्ट पर नजर आए जहां उन्होंने इस मूव के बारे में बात की।

उन्होंने कहा, "3MB ग्रुप ने मुझे जो सबसे यादगार चीज दी वो क्लेमोर किक ही रही। 3MB के शुरुआती दिनों में हम टाइट पैंट पहना करते थे, उस समय जब मैं किक लगाने के लिए आगे बढ़ा तो मुझे अहसास हुआ कि ज्यादा स्ट्रेच करने से मेरी पैंट फट भी सकती है और जब मैंने मूव लगाया तो अपने प्रतिद्वंदी के साथ मैं भी नीचे गिर पड़ा।"

मैकइंटायर ने आगे कहा, "मैच के बाद बैकस्टेज किसी ने मुझसे कहा कि मुझे इस मूव को ड्रॉप नहीं करना चाहिए, इसमें केवल थोड़े बदलाव की जरूरत है। वो बदलाव सही साबित हुआ और असल में मुझे क्लेमोर किक उस टाइट पैंट की वजह से ही मिली।"

अब द स्कॉटिश साइकोपैथ उस दौर से आगे बढ़ चुके हैं और एकदम परफेक्ट तरीके से क्लेमोर किक का इस्तेमाल करते हैं।

ये भी पढ़ें: 8 WWE सुपरस्टार्स जो अभी तक चैंपियन नहीं बन पाए हैं

डीन एम्ब्रोज़ को कैसे मिला डर्टी डीड्स

डीन एम्ब्रोज़(जॉन मोक्सली) WWE में डर्टी डीड्स को अपने फिनिश मूव के रूप में प्रयोग में लाते थे। इससे पहले वो द हेडलॉक ड्राइवर को अपने फिनिश मूव के तौर पर इस्तेमाल करते थे।

Fightful को दिए इंटरव्यू में एम्ब्रोज़ ने कहा था कि, "द हेडलॉक ड्राइवर एक अच्छा मूव था लेकिन लंबे सुपरस्टार्स के खिलाफ इसे लगा पाना बहुत मुश्किल था। रैंडी ऑर्टन के खिलाफ हेडलॉक ड्राइवर लगाने में मुझसे सबसे ज्यादा समस्या आई।"

उन्होंने आगे कहा, "जो मर्करी ने मुझे इसे DDT में बदलने की सलाह दी और इस बार मैं अपने मूव को सही तरीके से और सही टाइमिंग के साथ लगा पा रहा था।"

एंजेलो डॉकिंस को एलेक्सा ब्लिस ने 30 बार लगाया फिनिशिंग मूव

एलेक्सा ब्लिस के फिनिशर को पहले स्पार्कल स्प्लैश कहा जाता था, लेकिन ये मूव ना तो खतरनाक दिखाई देता और ना ही इसका नाम इसे एक प्रभावशाली मूव बनाता।

एक तरफ लांस स्टॉर्म ने उन्हें अपना मूव सही से लगाने में मदद की लेकिन वो एंजेलो डॉकिंस थे। जिन्होंने ब्लिस के इस मूव के प्रभाव को 30 बार झेला था, जिससे वो इस मूव को परफेक्ट तरीके से लगा सकें।

अंडरटेकर ने बिना अभ्यास के लगाया द टॉम्बस्टोन पाइलड्राइवर

द टॉम्बस्टोन पाइलड्राइवर WWE इतिहास के सबसे आइकॉनिक मूव्स में से एक रहा है, जिसे अंडरटेकर अपने मैचों में प्रयोग में लाते रहे हैं। उन्होंने पहली बार WWE हॉल ऑफ फेमर कोको बी के खिलाफ बिना कोई प्रयास के इस मूव का इस्तेमाल किया था।

कोको ने अपने पॉडकास्ट पर कहा था कि, "टॉम्बस्टोन पाइलड्राइवर का सबसे पहले प्रयोग मेरे ऊपर किया गया था। उस समय मेरी गर्दन टूटते-टूटते बची। WWE अधिकारियों ने ही अंडरटेकर से उस मूव का प्रयोग बिना अभ्यास किए करने को कहा था।"

पहली बार RKO लगाते हुए रैंडी ऑर्टन का पैर टूटा

साल 2006 में रैंडी ऑर्टन ने WWE Magazine को दिए इंटरव्यू में कहा, "विंस ने मुझे अपने फिनिशर का नाम चुनने के लिए केवल 1 दिन का समय दिया था, उस समय मुझे RKO ही याद आया।"

उन्होंने आगे कहा, "मैंने पहली बार इसके इस्तेमाल से पहले बहुत बार इसका अभ्यास किया। दुर्भाग्यवश अभ्यास के समय मैं अपने पैर को चोटिल कर बैठा था।"

Edited by Neeraj sharma

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...