Create

WWE Stomping Grounds, 23 जून 2019: शो की सबसे अच्छी और बुरी बातें

लेसी इवांस ने निभाई स्पेशल गेस्ट रेफरी की भूमिका
लेसी इवांस ने निभाई स्पेशल गेस्ट रेफरी की भूमिका

WWE Stomping grounds कई मायनों में एक सफल शो साबित हुआ है, बेहतरीन मैचों के अलावा कई दिलचस्प चीजें भी देखने को मिली। सच कहें तो बहुत ही कम लोगों को उम्मीद रही होगी कि WWE दबाव में आकर इस तरह का शो आयोजित कर सकता है।

ब्रॉक लैसनर, अंडरटेकर और गोल्डबर्ग जैसे रैसलर्स की एंट्री के बजाय मौजूदा WWE सुपरस्टार्स को पूरी ज़िम्मेदारी सौंपी गई। सभी ने अपना अपना रोल बेहद अच्छे ढंग से निभाया और इसी कारण फैंस के मन में स्टॉम्पिंग ग्राउंड्स के प्रति दिलचस्पी बनी रही।

शो में अधिकतर चीजें WWE के पक्ष में ही रहीं, मगर वो कहते हैं ना हर चीज परफेक्ट नहीं होती। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम स्टॉम्पिंग ग्राउंड्स की सबसे अच्छी और बुरी चीजें आपके सामने रख रहे हैं।

# अच्छा- स्पेशल गेस्ट रेफरी लेसी इवांस

हम जानते हैं कि जैसे ही स्पेशल गेस्ट रेफरी के किरदार के लिए लेसी इवांस का नाम लिया गया, इसे मिली-जुली प्रतिक्रियाएँ मिलनी शुरू हो गईं। विंस मैकमैहन भी इस बात से भली-भांति वाकिफ रहे कि बैरन कॉर्बिन अभी किसी पीपीवी के मेन इवेंट का भार अपने कंधों पर उठाने में सक्षम नहीं हैं। इसलिए कॉर्बिन की सहायता के लिए इस मुक़ाबले में स्पेशल गेस्ट रेफरी को जोड़ा गया।

इवांस ने बड़े ही बेहतर ढ़ंग से दर्शाया कि वो हर तरह के रोल में फिट बैठ सकती हैं। दूसरी ओर रॉलिंस कंपनी के सबसे बड़े चैंपियन हैं और किसी महिला रैसलर पर वो हाथ नहीं उठा सकते थे, इवांस ने इसी बात का फायदा उठाया और चैंपियन को एक के बाद एक कई थप्पड़ जड़ डाले।

हम ऐसा नहीं कह रहे कि कॉर्बिन ने अच्छी फाइट नहीं की परंतु मैच का फोकस तब पूरी तरह इवांस पर शिफ्ट हो गया, जब बैकी लिंच की एंट्री हुई। WWE चाहे रैसलिंग वर्ल्ड में संघर्ष कर रहा है लेकिन मिस्टर मैकमैहन ने लेसी इवांस को यह ज़िम्मेदारी सौंप दर्शाया है कि वो आज भी एक जीनियस हैं।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

# बुरा- WWE के आइडियाज़ को नहीं दिया जा रहा सम्मान

जैसे ही स्पेशल गेस्ट रेफरी के लिए लेसी इवांस का नाम सामने आया, क्राउड़ ने भी अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। AEW और सीएम पंक के चैंट स्पष्ट रूप से सुने जा सकते थे। क्राउड़ द्वारा इस तरह का रिस्पॉन्स समझ से परे है, शो बेहतरीन रहा और अच्छे मैच भी लड़े गए। इसके बावजूद लोग WWE के प्लान्स को गलत ठहरा रहे हैं।

निःसन्देह इस शो के लिए रैसलर्स ने बहुत मेहनत की है किन्तु क्राउड़ से उन्हें क्या मिला। इससे संभव ही रैसलर्स का मनोबल धड़ाम से नीचे जा गिरा है, जो कि पूरे WWE रोस्टर के लिए ठीक नहीं है।

यह भी पढ़ें: Stomping Grounds के मेन इवेंट में बैकी लिंच के आने का असली कारण सामने आया


# अच्छा- कोफ़ी किंग्सटन का टाइटल रिटेन करना

कोफ़ी किंग्सटन को मेन इवेंट मैच का हिस्सा ना बनाना एक तरह से अच्छा ही फैसला साबित हुआ है। क्योंकि क्राउड़ की दृष्टि से डॉल्फ जिगलर और कोफ़ी किंग्सटन का मैच फ्लॉप साबित हुआ है।

खैर, दोनों ने अपना बेस्ट देने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो पाए। हालांकि अंतिम क्षणों में जरूर ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे जिगलर को जीत मिलने वाली है, फिर भी कोफ़ी की धमाकेदार वापसी से फैंस में भी जोश पैद हुआ और वो टाइटल डिफेंड करने में सफल रहे।

# बुरा- शेन मैकमैहन और रोमन रेंस के बीच फ्यूड का नहीं हुआ अंत

सुपर शोडाउन में शेन मैकमैहन के हाथों रोमन रेंस की हार को फैंस अभी तक भुला नहीं पाये थे। इसलिए कयास लगाए जा रहे थे कि स्टॉम्पिंग ग्राउंड्स में रोमन और शेन के बीच चल रही यह जद्दोजहद अब संभव ही ख़त्म होने वाली है।

ड्रू मैकइंटायर और द बिग डॉग ने रिंग में अपना बेस्ट दिया और क्राउड़ भी इस मैच के परिणाम से काफी खुश दिखाई दिया। मगर एक सोचने वाली बात यह है कि आख़िर क्यों शेन और रोमन की फ्यूड का अभी भी अंत नहीं हुआ।

रैसलिंग यूनिवर्स भी यही चाहता है कि रोमन रेंस और ड्रू मैकइंटायर के बीच सिंगल्स फ्यूड चले, मगर शेन द्वारा इनके बीच आने वाले मुकाबलों में दखल देने के दरवाज़े अभी भी खुले हुए हैं।

यह भी पढ़ें:4 बड़ी गलतियाँ जो WWE को Stomping grounds में नहीं करनी चाहिए थी

# अच्छा- ड्रू गुलक बने नए क्रूज़रवेट चैंपियन

साल दर साल WWE 205 भी एक से एक बेहतरीन टैलेंट प्रोड्यूस कर रहा है। ड्रू गुलक अच्छे एथलीट हैं और उन्हें चैंपियन बनते देखना भी WWE फैंस के लिए संभव ही एक सुखद एहसास है।

मुक़ाबले में टोनी नीस और अकीरा टोजावा ने भी अपनी भूमिका बेहद अच्छे ढंग से निभाई। गुलक अपने करियर में पहली बार क्रूज़रवेट चैंपियन बने हैं और अब देखना दिलचस्प होगा कि वो इस डिवीज़न का भार किस तरह अपने मजबूत कंधों पर संभाल सकने में सक्षम हैं।

यह भी पढ़ें: रिकोशे को यूनाइटेड स्टेट्स चैंपियन बनाने के 5 बड़े कारण


# अच्छा/बुरा- रिकोशे की जीत/समोआ जो की हार

युवा रिकोशे की मेहनत आख़िरकार रंग लाई, अंततः वो अपने WWE करियर में पहला टाइटल हासिल करने में सफल रहे हैं। दूसरी ओर दुखद बात यह रही कि केवल 20 दिन बाद ही समोआ जो के चैंपियनशिप सफर का अंत हो चला है।

अब 'जो' पर ख़तरा इसलिए मंडरा रहा है क्योंकि उनके साथ भी वही हो सकता है जो रूसेव और शिंस्के नाकामुरा के साथ होता आया है। तीन बेहतरीन एथलीट्स को बिना टाइटल के देखना एक गलत रणनीति का एहसास करा रही है। क्या आपको नहीं लगता कि रिकोशे को अभी थोड़ा और समय दिया जाना चाहिए था।

Quick Links

Edited by विजय शर्मा
Be the first one to comment