Create
Notifications

WWE WrestleMania 37: 5 कारण जिनके आधार पर रैंडी ऑर्टन एवं ब्रे वायट को एक सिनेमैटिक मैच का हिस्सा नहीं होना चाहिए

रैंडी ऑर्टन एवं ब्रे वायट को एक सिनेमैटिक मैच का हिस्सा नहीं होना चाहिए
रैंडी ऑर्टन एवं ब्रे वायट को एक सिनेमैटिक मैच का हिस्सा नहीं होना चाहिए
reaction-emoji
Amit Shukla

WWE के टीएलसी (TLC) शो के समय से रिंग से दूर हुए ब्रे वायट (Bray Wyatt) के किरदार द फीन्ड (The Fiend) ने अबतक रिंग में वापसी नहीं की है। वहीं रैंडी ऑर्टन (Randy Orton) अब भी रिंग में नजर आते हैं। एलेक्सा ब्लिस (Alexa Bliss) इस समय रैंडी ऑर्टन के साथ एक कहानी का हिस्सा हैं और ये दोनों फास्टलेन (Fastlane) शो में आमने सामने होंगे।

ये भी पढ़ें: 4 बड़े सवाल जो पिछले हफ्ते WWE Raw और SmackDown से खड़े हुए

ऐसी उम्मीद है कि ब्रे का किरदार द फीन्ड शो के दौरान नजर आएगा लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो भी इस बात की संभावना बढ़ गई है कि वो अब आकर ऑर्टन के साथ WrestleMania के लिए अपने मैच की शुरुआत करेंगे। ऐसी स्थिति में एक कयास ये लग रहा है कि ये दोनों पिछले साल जॉन सीना और द फीन्ड के बीच हुए मैच की तरह एक सिनेमैटिक मैच ही करना चाहेंगे। आइए आपको बताते हैं कि इन दोनों के बीच एक सिनेमैटिक मैच होना एक अच्छा फैसला क्यों नहीं है।

ये भी पढ़ें: 6 WWE सुपरस्टार्स जो बॉलीवुड फिल्मों में भी नजर आए हैं

#5 WWE पिछले 12 महीनों में काफी सिनेमैटिक मैच कर चुकी है

2020 में पैंडेमिक के दौरान WWE को अपने प्रेज़ेंटेशन को बदलना पड़ा और उसकी वजह से ना सिर्फ पिछले साल का WrestleMania परफॉर्मेंस सेंटर में हुआ बल्कि कंपनी ने कई मैच सिनेमैटिक अंदाज में ही शूट किए थे। इनमें द अंडरटेकर बनाम एजे स्टाइल्स एवं जॉन सीना बनाम द फीन्ड वाला मैच शामिल है।

इसके बाद WWE ने इस कांसेप्ट को कई बार इस्तेमाल किया लेकिन जब एक ही तरीका कई बार इस्तेमाल हो जाए तो वो बोरियत देने लगता है। यही वजह है कि Extreme Rules में हुआ मैच फैंस को पसंद नहीं आया था। अगर ये सिनेमैटिक मैच होता है तो फैंस इसे उतना पसंद नहीं करेंगे। इससे बेहतर होगा कि WWE इस आइडिया को आगे के किसी मैच के लिए बचा ले।

ये भी पढ़ें: 5 WWE सुपरस्टार्स जो मैच के दौरान बुरी तरह लहूलुहान हो गए

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को हमारे Facebook page पर पाएं।

#4 WWE WrestleMania में द फीन्ड एक 'इन रिंग' मैच का हिस्सा नहीं रहे हैं

WrestleMania 36 में हुआ मैच पहले रिंग का हिस्सा होने वाला था लेकिन फिर पैंडेमिक ने स्थिति को बदल दिया और WWE ने इस मैच को परफॉर्मेंस सेंटर में किया और इसे एक सिनेमैटिक तरीके से लड़ा गया था। इस मैच का अंत रिंग में जरूर हुआ था लेकिन अगर देखा जाए तो पूरा मैच एक सिनेमैटिक मैच था।

द फीन्ड के पास पावर्स हैं लेकिन रिंग में उनका मैच होना बेहद जरूरी है। इससे फैंस को भी अच्छा एंटरटेनमेंट प्राप्त होगा और चूँकि इस बार फैंस भी एरिना में होंगे तो एक सिनेमैटिक मैच को कर पाना काफी मुश्किल होगा। इस साल के मैच के कारण द फीन्ड अपना पहला 'इन रिंग' मैच लड़ेंगे।

#3 WrestleMania 33 के अपने मैच को बेहतर करने का मौका

WrestleMania 33 में रैंडी ऑर्टन एवं ब्रे वायट आमने सामने थे और दोनों ने काफी अच्छी रेसलिंग करनी चाही थी लेकिन वो इसमें नाकाम रहे थे। दरअसल इसकी शुरुआत 2016 में उस समय हुई थी जब रैंडी ऑर्टन ने वायट फैमिली ज्वाइन कर ली थी। उसके बाद रैंडी और ल्यूक हार्पर SmackDown में टैग टीम चैंपियन भी बने थे।

2017 आते ही रैंडी ऑर्टन ने वायट फैमिली कंपाउंड जला दिया और इन दोनों के बीच हुए मैच को काफी हाइप दिया गया। इसके बावजूद ये मैच सिर्फ पिक्चर्स के माध्यम से लड़ा गया जिसमें इन रिंग एक्शन बेहद कम था। यही वजह है कि फैंस इस मैच को भूल चुके हैं। अगर इन दोनों को एक साथ लड़ने का मौका मिलता है तो ये रिंग में अच्छे एक्शन से फैंस को एंटरटेनमेंट प्रदान कर सकते हैं।

#2 WWE के फैंस ने अबतक रैंडी ऑर्टन एवं द फीन्ड को एक ट्रेडिशनल रेसलिंग मैच में नहीं देखा है

रैंडी ऑर्टन और ब्रे वायट रेसलिंग मैच का हिस्सा रहे हैं लेकिन रैंडी और द फीन्ड एक ट्रडिशनल रिंग मैच का हिस्सा नहीं रहे हैं। अगर TLC में इनके मैच को एक रिंग मैच कहा भी जाए तो भी उसमें जीत के लिए आपको नार्मल पिन नहीं करना था। एक नार्मल मैच में आप हर वो कदम उठाते हैं जिससे एक्शन रियल लगे।

वैसे देखा जाए तो फीन्ड के किरदार में कुछ भी नार्मल नहीं है क्योंकि वो किरदार ही कल्पनाओं एवं अद्भुत शक्तियों के आधार पर बनाया गया है। इसको देखते हुए अगर इनके मैच को एक नार्मल मैच बनाया जाए तो उससे दोनों रेसलर्स के साथ साथ फैंस को भी अच्छा लगेगा। अगर WWE सुपरनैचुरल चीजों को दिखाना चाहती है तो उसे ये मैच के बाद करना चाहिए।

#1 WWE WrestleMania 37 में फैंस उपस्थित रहेंगे

जब रिंग में एक्शन और रिंगसाइड पर फैंस हों तो सिनेमैटिक मैच कर पाना थोड़ा मुश्किल है। ऐसे में WWE को एक नार्मल मैच करके एक्शन एवं एंटरटेनमेंट को बरकरार रखना चाहिए। वैसे भी इस बात में कोई दोराय नहीं है कि WWE कुछ बदलाव करके ये मैच कर सकती है पर क्या ये सफल होगा।

अगर फैंस इस मैच के दौरान बोर हो गए तो वो शो के लिए अच्छा नहीं होगा। वैसे भी इस साल WrestleMania के दोनों दिनों में मात्र 25,000 फैंस ही हर दिन स्टेडियम में होंगे। इसको देखते हुए WWE को अपने कंटेंट को और बेहतर करना चाहिए ताकि एक्शन एवं एंटरटेनमेंट में कोई कमी ना आए।

Edited by Amit Shukla
reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...