Create
Notifications

रैसलर्स कितने तरह के होते हैं और उनकी सबसे बड़ी खासियत 

जॉन सीना को अनाउंस टेबल पर स्पीयर मारते हुए रोमन रेंस
जॉन सीना को अनाउंस टेबल पर स्पीयर मारते हुए रोमन रेंस
Neeraj sharma

प्रो रैसलिंग का इतिहास दशकों पुराना रहा है। WWE का नाम तो बहुत बाद में आया, मगर स्पोर्ट्स एंटरटेनमेंट वर्ल्ड में WWE ही वह पहली रैसलिंग कंपनी रही, जिसने किसी उभरते हुए सितारे की तरह सफलता प्राप्त की। मूल रूप से रैसलिंग के दो ही प्रकार रहे हैं, एमेच्योर रैसलिंग और प्रोफेशनल रैसलिंग।

एमेच्योर रैसलिंग के अपने कई प्रकार हैं और प्रो रैसलिंग के अपने। प्रो रैसलिंग की ही बात करें तो इसे लड़ने के कई अलग-अलग स्टाइल हैं और इस आर्टिकल में हम प्रोफेशनल रैसलिंग के थोड़ा अंदर जाने की कोशिश करने वाले हैं। आख़िर रैसलर्स को स्ट्राइकर, हाइ-फ्लायर जैसे और भी अन्य नामों से क्यों पुकारा जाता है।

टेक्निकल

कर्ट एंगल
कर्ट एंगल

टेक्निकल रैसलिंग नाम सुनकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि जो रैसलर अपनी तकनीक और अच्छी पकड़ के सहारे अपने प्रतिद्वंदी को हराने की कोशिश करे। WWE रैसलर्स की ही बात करें तो कर्ट एंगल, जैक स्वैगर, शॉन माइकल्स, डेनियल ब्रायन जैसे एथलीट यानी जिनकी ग्रिप अच्छी हो, वही इस तरह की रैसलिंग करते हैं। स्पष्ट और भारतीय भाषा में कहा जाए तो कुश्ती के बैकग्राउंड वाले रैसलर्स इस तरह की रैसलिंग करते हैं।

यह भी पढ़ें: 5 चौंकाने वाले नाम जो WWE में जॉन सीना को हरा चुके हैं

ब्रॉलर

रैंडी ऑर्टन
रैंडी ऑर्टन

अंग्रेजी शब्द ब्रॉल का हिन्दी मतलब ही एक तरह से होता है आक्रामकता या फिर यूं कहें कि झगड़ालू किस्म का रैसलर। ऐसे रैसलर्स जिनके पास ऐसे मूव्स हों जो सामने वाले को आसानी से क्षति पहुंचा सकते हैं। इस लिस्ट में सबसे ऊपर रैंडी ऑर्टन की पंट किक (जो कि अब एक प्रतिबंधित मूव है) या फिर शेमस की ब्रोग किक हो सकते हैं।


पावरहाउस

बतिस्ता
बतिस्ता

पावरहाउस रैसलिंग स्टाइल ही ताकतवर रैसलर्स के लिए बना है, आमतौर पर जो तकनीक का तो इस्तेमाल करते हैं लेकिन ताकत का ज्यादा इस्तेमाल करने में समझदारी दिखाते हैं। उदाहरण के तौर पर ब्रॉक लैसनर, ब्रॉन स्ट्रोमैन और रोमन रेंस या फिर जॉन सीना। मूव्स की बात करें तो पावरबॉम्ब, स्पाइनबस्टर और सुपलेक्स जैसे मूव्स पावरहाउस रैसलिंग के अंतर्गत आते हैं।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

हार्डकोर

मिक फोली
मिक फोली

WWE में पिछले कई सालों से इस तरह के रैसलिंग मैच कम ही लड़े जाते हैं। इस तरह के मैचों में स्टील चेयर, लैडर, हैमर और अन्य कई हथियारों को प्रयोग में लिया जाता है, यानी नो-डिसक्वालीफ़िकेशन और लास्ट मैन स्टैंडिंग जैसी फाइट इस रैसलिंग स्टाइल के अंतर्गत आती है। मिक फोली चाहे संन्यास ले चुके हैं मगर आज भी उनका नाम सबसे बेस्ट हार्डकोर रैसलर्स में शुमार किया जाता है।

यह भी पढ़ें: WWE इतिहास के 5 सबसे छोटे रैसलर्स

शोमैन

डॉल्फ जिगलर
डॉल्फ जिगलर

ऐसे रैसलर्स जो किसी फाइट के दौरान प्रतिद्वंदी के मूव्स को भी ताकतवर दिखाने का प्रयास करते हैं। ये क्राउड के रिेएक्शन के दम पर खुद को बेहतर दिखाते हैं और क्राउड को इन्वॉल्व करते हैं। WWE सालों से इसी तरह के रैसलिंग स्टाइल पर काम करती आ रही है और उदाहरण के तौर पर जॉन सीना, शॉन माइकल्स और क्रिस जैरिको जैसे नाम इस स्टाइल में महारथ रखते हैं। साथ ही साथ इस शोमैन रैसलर होने के लिए माइक स्किल्स पर अच्छी पकड़ कम से कम WWE में तो अनिवार्य है।

हाइ-फ्लायर

शार्लेट
शार्लेट

इसका अंदाजा लगाना कोई कठिन कार्य नहीं, जो सुपरस्टार्स हाइ-फ्लाइंग मूव्स लगाने में महारथ रखते हैं उन्हें ही इस स्टाइल का किंग कहा जाता है। हैवीवेट रैसलर्स के साथ ऐसा बहुत ही कम देखा जाता है कि वो टॉप रोप के ऊपर से फ्लिप लगा रहे हों या फिर कोई अन्य मूव। रे मिस्टीरियो, जैफ हार्डी, जॉन मॉरिसन, अली जैसे रैसलर्स अपने करियर में हाइ-फ्लाइंग मूव्स का प्रयोग करते आए हैं।

यह भी पढ़ें: 3 WWE रैसलर्स जिन्हें द ग्रेट खली कभी नहीं हरा पाए


स्ट्राइकर

समोआ जो
समोआ जो

स्ट्राइकर उस इन-रिंग एथलीटों को कहा जाता है जो रिंग में तेजी से मूव करने में सक्षम हो। लगातार तेज पंच या किक्स के सहारे विपक्षी रैसलर को क्षति पहुंचाने वाले रैसलर्स को स्ट्राइकर कहा जाता है। शेन मैकमैहन तेज पंच लगाने में सक्षम हैं, रोमन रेंस का सुपरमैन पंच और समोआ जो हैवीवेट होने के बाद भी अच्छे पंच और किक्स का इस्तेमाल करते हैं।

Edited by विजय शर्मा

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...