क्रिकेट जगत की दिनभर की बड़ी ख़बरें: 28 जून, 2017

भारत के खिलाफ शेष वन-डे सीरीज के लिए वेस्टइंडीज की टीम का ऐलान वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ शेष वन-डे सीरीज के लिए 13 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया है। विंडीज टीम ने काइल होप और सुनील एम्ब्रिस के रूप में दो नए चेहरे शामिल किए। 28 वर्षीय होप विंडीज टीम के बल्लेबाज शाए होप के बड़े भाई हैं, जबकि 24 वर्षीय एम्ब्रिस विकेटकीपर बल्लेबाज हैं। श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा पर छह महीने निलंबन और 50 प्रतिशत जुर्माना लगा श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) ने मंगलवार को घोषणा की है कि तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा पर टूर कांट्रेक्ट के उल्लंघन करने के कारण अनुशासनात्मक कार्यवाही की गई है। श्रीलंका क्रिकेट के मानद सचिव मोहन डी सिल्वा, श्रीलंका क्रिकेट के सीईओ एश्ले डी सिल्वा और अनुशासनात्मक समिति के चेयरमैन असेल रेकवा आल वाली विशेष जांच पैनल ने मलिंगा को कांट्रेक्ट के उल्लंघन का दोषी पाया। दोपहर के समय श्रीलंका हेडक्वार्टर पर जांच समिति के सामने मलिंगा ने गलती स्वीकार की और औपचारिक माफ़ी मांगी। कोहली को ट्रैक पर लाने के लिए इंजीनियर ने भरा भारतीय टीम के कोच का आवेदन भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली और अनिल कुंबले के बीच विवाद से एक मैकेनिकल इंजीनियर आगबबूला हो चुका है। अनिल कुंबले का इस्तीफा देना इस इंजीनियर को सही नहीं लगा और अब उसकी नजरों में कप्तान कोहली एक विलन बन चुके हैं। इस बात को जाहिर करते हुए मैकेनिकल इंजीनियर ने भारतीय टीम के हेड कोच बनने का आवेदन किया है। भारतीय टीम के कोच का खुलासा, क्यों कुंबले से बेहतर हैं रवि शास्त्री भारतीय टीम के हेड कोच की दौड़ में सबसे आगे चल रहे हैं रवि शास्त्री, लेकिन पिछले वर्ष से एक सवाल उठता आ रहा है कि उन्हें पहले इस पद की जिम्मेदारी से मुक्त करना सही कदम था। क्रिकेट सलाहकार समिति की सदस्य सौरव गांगुली तब रवि शास्त्री के इंटरव्यू में शामिल नहीं हुए थे और उनकी जगह कुंबले को नियुक्त किया था। तब यह संदेह किया जा रहा था कि काम करने वाले कुंबले क्या शास्त्री जैसे कोहली के साथ साझेदारी निभा पाएंगे। कोहली-कुंबले विवाद को बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था : सौरव गांगुली पूर्व भारतीय कप्तान और क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) के सदस्य सौरव गांगुली का मानना है कि बीसीसीआई को पूर्व कोच अनिल कुंबले और कप्तान विराट कोहली को विवाद को सही तरीके से सुलझाना चाहिए था। गांगुली ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कुंबले-कोहली विवाद को बेहतर तरीके से सुलझाना चाहिए था। इस मुद्दे का विशेष तरीके से प्रबंधन किया जाना चाहिए था, जो नहीं हो पाया। ट्रेविस हेड बांग्लादेश दौरे पर ऑस्ट्रेलिया के कप्तान हो सकते हैं ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल, उस्मान ख्वाजा और ट्रेविस हेड के लिए खिलाड़ियों और बोर्ड के बीच अनुबंध विवाद को लेकर असमंजस की स्थिति पैदा हो सकती है। इन तीनों खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रीका के ऑस्ट्रेलिया 'A' की टीम के दौरे के लिए चुना गया है। खिलाड़ियों और बोर्ड के बीच अनुबंध पर 30 जून तक मेमोरेंडम पर दस्तखत नहीं होते हैं, तो ख्वाजा और मैक्सवेल को भी बाहर होना पड़ेगा और उनका यात्रा अनुबंध समाप्त हो जाएगा। दूसरी ओर ऐसी परिस्थिति में ट्रेविस हेड बांग्लादेश के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई टीम के दौरे पर सीनियर टीम के कप्तान बनाए जा सकते हैं। निक पोथास होंगे श्रीलंका के अंतरिम कोच ग्राहम फोर्ड के कोच पद से इस्तीफे के बाद निक पोथास को श्रीलंका क्रिकेट टीम का अंतरिम कोच नियुक्त किया गया है। फोर्ड ने पिछले हफ्ते ही अपना इस्तीफा दिया था, जबकि अभी उनका कार्यकाल समाप्त होने में 2 साल का समय बाकि था। श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष थिलंगा सुमाथिपाला ने मंगलवार को बताया कि दक्षिण अफ्रीका और हैम्पशायर के पूर्व विकेटकीपर निक पोथास को अस्थायी रूप से श्रीलंका का मुख्य कोच बनाया गया है। पोथास अभी तक श्रीलंका टीम के फ़ील्डिंग कोच की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। सुरेश रैना ने नीदरलैंड्स में प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात की भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने नीदरलैंड्स में प्रधानमंत्री नरेश मोदी से मुलाकात की। रैना वहां अपनी पत्नी प्रियंका के साथ छुट्टियां मानाने गयें हैं, वहीं प्रधानमंत्री मोदी अपने तीन देशों के दौरे के अंतिम चरण में वहां पहुचें थे। इससे पहले प्रधानमंत्री पुर्तगाल और अमेरिका गये थे। भारतीय टीम से बाहर चल रहे रैना ने ट्विटर के जरिये प्रधानमंत्री के साथ फोटो शेयर कर यह जानकारी दी। रैना ने लिखा कि प्रधानमंत्री से मिल कर काफी खुशी हुई उनका नीदरलैंड्स दौरा पूरी तरह रचनात्मक था। हांगकांग सिक्सेस टूर्नामेंट की 5 वर्ष बाद वापसी हांगकांग में 2012 के दौरान हुआ लोकप्रिय टूर्नामेंट एक बार फिर आयोजित होगा। कोवलून क्रिकेट क्लब मैदान पर इस दो दिवसीय टूर्नामेंट के मैच 28 और 29 अक्टूबर 2017 को होंगे। तेजी से चलने वाले इस टूर्नामेंट की प्रकृति लोगों को काफी खुश कर रही थी। सबसे पहले यह 1992 में खेला गया था। इस बार फिर यह कुछ नई तकनीक के साथ वापस आ रहा है। महेंद्र सिंह धोनी ने मेरी शतकीय पारी को नहीं सराहा: फखर जमान पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज फखर जमान ने चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में जबरदस्त शतक लगाकर टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 114 रनों की पारी खेलकर गत विजेता भारत का लगातार दूसरी बार ख़िताब पर कब्जा करने का सपना तोड़ दिया। इस पारी की सराहना पुरे विश्व के क्रिकेट प्रशंसकों ने की लेकिन फखर इस बात से काफी निराश हैं कि धोनी ने शतक बनाने के बाद उनकी सराहना नहीं की। फखर ने बताया "मैं इस बात से थोड़ा निराश हुआ कि मेरा शतक पूरा होने पर धोनी ने कोई खास प्रतिक्रिया नहीं दी"। इस बल्लेबाज ने कोहली के बारे में कहा "उसके बाद जब मैंने अपना शतक पूरा किया तो मुझे लगा कि कोई प्रतिक्रिया नहीं देगा लेकिन जब मैंने कोहली की तरफ देखा तो उनका सिर नीचे की तरफ था पर वो ताली बजा रहे थे।"

Edited by Staff Editor