Create
Notifications

गुड़ चना खाने के फायदे: Gud chana khane ke fayde

फोटो: अमर उजाला
फोटो: अमर उजाला
Amit Shukla

गुड़ और चना एक साथ खाना कई परेशानियों को दूर रखता है। अगर आपकी सेहत में कोई परेशानी है तो आप उसका निदान इन दोनों के एक साथ सेवन से कर सकते हैं। इसमें दोराय नहीं है कि इनके एक साथ सेवन को आज के मौसम में बेहद पसंद किया जाता है पर क्या आप इनका सेवन करते हैं?

ये भी पढ़ें: किस विटामिन की कमी से पिगमेंटेशन होता है: Kis vitamin ki kami se pigmentation hota hai

अगर नहीं तो अब आपको इनका सेवन करना चाहिए क्योंकि गुड़ एवं चना आपकी सेहत को अच्छा रखने में मददगार हैं। इनके साझा इस्तेमाल से शरीर को ऊर्जा मिलती है और आपको कुछ अच्छा करने की शक्ति भी जो ऐसे तो मुश्किल है लेकिन जब साथ में हो तो ये बेहद लाभकारी होती है।

ये भी पढ़ें: हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण: haath pairon mein kamjori jhunjhuni ka ehsas hona hai kis beemaari ke lakshan

इसी प्रकार से अगर आपने ध्यान दिया हो तो गुड़ और चना व्यक्तिगत रूप से भी सेहत को बेहतर करने में मददगार हैं। इन दोनों को काफी गुणकारी माना जाता है लेकिन यदि ये दोनों एक साथ खाए जाएं तो उससे और भी फायदे देखने को मिलते हैं जिनके बारे में हम आपको नीचे बताने वाले हैं।

गुड़ चना खाने के फायदे

एनीमिया - एनीमिया से ग्रसित लोगों को इसका सेवन करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से शरीर में आयरन की कमी नहीं होती है और ना ही आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा में कोई कमी आएगी। ये एक अच्छी बात है जिसका ध्यान रखा जाना चाहिए।

एनर्जी - शरीर के लिए एनर्जी बेहद जरूरी है और उसकी भरपूर मात्रा आपको इसके एक साथ सेवन से प्राप्त होती है। वैसे भी सेहत के लिए एनर्जी सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है और वो आपको इन दोनों के सेवन से प्राप्त हो जाती है।

कब्ज - फाइबर से भरपूर चना और उसके साथ गुड़ आपके शरीर में कब्ज की समस्या को होने ही नहीं देता है। ऐसे में आपकी सेहत अच्छी रहती है और कब्ज की परेशानी भी दूर रहती है।

दिमाग - दिमाग का तेज होना आज कल के दौर में बेहद जरूरी है और ऐसे में अगर आप इन दोनों का सेवन करते हैं तो आपको विटामिन बी-6 प्राप्त होगा जो याददाश्त को ठीक करता है।

ये भी पढ़ें: फलों और सब्जियों में विटामिन की सूची: Falon aur sabjiyon mein vitamin ki soochi


Edited by Amit Shukla

Comments

Fetching more content...