Create

पत्थरचट्टा के 3 औषधीय उपयोग: Pattharchatta Ke 3 Aushadhiya Upyog

फोटो: Webdunia
फोटो: Webdunia

ये बिल्कुल मुमकिन है कि आपने पत्थरचट्टा का नाम इस आर्टिकल से पहले नहीं सुना हो। पत्थरचट्टा को गाँवों में स्टोन से जुड़ी बीमारियों के इलाज के लिए कारगर माना जाता है। ये आयुर्वेद और औषधि विज्ञान में बेहद प्रचलित है और जो लोग इन दोनों में से एक का भी ज्ञान रखते हैं उन्हें इसके बारे में मालूम होगा।

ये भी पढ़ें: नहाने से पहले तेल लगाने के 3 फायदे: Nahane Se Pehle Tel Lagane Ke 3 Fayde

पत्थरचट्टा कोई पत्थर नहीं है जैसा कि इसके नाम को पढ़ने से लगता है। ये दरअसल एक पेड़ है जिसमें ये खूबी है कि वो ना सिर्फ स्टोन बल्कि शरीर से जुड़ी कई अन्य बीमारियों को भी ठीक कर सकता है। आपका शरीर ही आपका सबसे बड़ा साथी है और किडनी में होने वाला स्टोन उस दोस्ती में सबसे बड़ी बाधा है।

इसके इस्तेमाल के बारे में आपने सिर्फ तब सुना होगा जब आपने आयुर्वेद के बारे में पढ़ा होगा या फिर आपने अपने बड़े बुजुर्गों के साथ बैठकर बात की होगी। अगर आप इन दोनों को करने में चूक गए हैं तो आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको पत्थरचट्टा के कुछ ऐसे उपयोग बताने वाले हैं जिन्हें जानकर आप दंग रह जाएंगे।

पत्थरचट्टा के 3 औषधीय उपयोग

किडनी स्टोन से बचाए

पथरी की परेशानी बेहद मुश्किल होती है। इसके कारण इंसान कुछ भी नहीं कर पाता है। वहीं अगर आप इसका इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसकी पत्तियों से काढ़ा तैयार करें। इसके बाद ठंडा होने पर इसमें शहद और शिलाजीत मिला लें। अब इसको थोड़ा थोड़ा करके पिएं ताकि आपको लाभ हो।

ये भी पढ़ें: एक दिन में कितना चुकंदर खाना चाहिए: Ek din mein kitna chukandar khaana chahiye

पेशाब से जुड़ी परेशानी को ठीक करे

अगर आपको पेशाब से जुड़ी कोई दिक्कत है तो आपको इसकी पत्तियों के रस का काढ़ा बनाना चाहिए। इसके बाद आप इसमें शहद मिला लें। अब इस मिश्रण को पीने के बाद आप ये पाएंगे कि पेशाब से जुड़ी सभी परेशानियाँ इससे ठीक हो सकती हैं। इसमें वो परेशानियाँ भी शामिल हैं जिनके कारण आपको जलन होती है।

ब्लड प्रेशर पर रखे कंट्रोल

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखने के लिए आप इसका अर्क तैयार करें और दिन में इस अर्क की पाँच से दस बूंदों का सेवन करें। इससे आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहेगा जो एक अच्छी बात है। आप अपने लिए कोई परेशानी नहीं चाहेंगे और ये आपको हर प्रकार की परेशानी से बचाकर रखता है।

ये भी पढ़ें: खाना खाने के बाद शुगर लेवल कितना होना चाहिए: Khaana Khaane ke baad sugar level kitna hona chahiye

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Be the first one to comment