Create

4 कारण क्यों बॉबी लैश्ले ने Hell in a Cell मैच में ड्रू मैकइंटायर को हराकर WWE चैंपियनशिप को रिटेन किया

WWE
WWE

WWE के हैल इन ए सैल (Hell in a Cell) 2021 पीपीवी का सफलतापूर्वक अंत हो गया है। इस शो में कई जबरदस्त मैचों का आयोजन हुआ लेकिन मेन इवेंट ने सभी का ध्यान खींचा। ड्रू मैकइंटायर (Drew Mcintyre) WWE चैंपियनशिप के लिए बॉबी लैश्ले (Bobby Lashley) को लास्ट चांस Hell in a Cell मैच में चैलेंज कर रहे थे। स्कॉटिश सुपरस्टार के पास चैंपियनशिप हासिल करने का अंतिम मौका था।

बॉबी लैश्ले ने शर्त रखी थी कि अगर वो टाइटल रिटेन कर लेंगे तो इसके बाद उनके चैंपियन रहते हुए ड्रू मैकइंटायर को कभी WWE चैंपियनशिप मैच नहीं मिलेगा। उनका Hell in a Cell मैच काफी ज्यादा बढ़िया साबित हुआ। इस मुकाबले में कई हथियारों का उपयोग किया गया और MVP की इंटरफेरेंस भी देखने को मिली।

ये भी पढ़ें:- 380 दिन तक चैंपियन रहने वाले दिग्गज की Hell in a Cell में हुई करारी हार, मौजूदा WWE चैंपियन ने किया चारों खाने चित

इसी वजह से अंत में लैश्ले ने ड्रू मैकइंटायर को पिन करते हुए जीत हासिल की। सभी के मन में सवाल होगा कि आखिर किन कारणों से बॉबी लैश्ले ने अपने टाइटल को रिटेन किया। इसलिए इस आर्टिकल में हम 4 कारणों के बारे में बात करेंगे जिनकी वजह से बॉबी लैश्ले ने मैकइंटायर को हराया।

4- WWE Hell in a Cell में बॉबी लैश्ले को बेहतर हील सुपरस्टार दिखाने के लिए

बॉबी लैश्ले ने बतौर हील सुपरस्टार शानदार काम किया है। एक बड़े हील सुपरस्टार का काम होता है कि फैंस उनसे नफरत करने लगे और वो हमेशा चीटिंग करते हुए अपने टाइटल को रिटेन कर सके। बॉबी लैश्ले को WWE ने Hell in a Cell में बेहतर विलन दिखाने की कोशिश की और वो इसमें सफल रहे।

ये भी पढ़ें:- Hell in a Cell में मौजूदा WWE चैंपियन ने अधमरी हालत में चीटिंग से जीता मैच, दुश्मन ने किया बहुत बुरा हाल

मैच में एक टॉप हील स्टार की तरह बॉबी लैश्ले का पलड़ा भारी रहा जबकि MVP की इंटरफेरेंस से भी WWE चैंपियन को मदद मिली। MVP को बॉबी की जीत का कारण माना जा सकता है। Hell in a Cell में लैश्ले को चैंपियन बनाए रखा गया ताकि वो एक बेहतर हील सुपरस्टार के रूप में सामने आ सके।

कृपया Sportskeeda के WWE सेक्शन को बेहतर बनाने में मदद करें। अभी 30 सेकंड का सर्वे करें!

3- ड्रू मैकइंटायर को WWE चैंपियनशिप स्टोरीलाइन से पूरी तरह दूर करने के लिए

ड्रू मैकइंटायर काफी समय से WWE चैंपियनशिप की दुश्मनी का हिस्सा बने हुए थे। उन्होंने Royal Rumble 2020 में जीत दर्ज करने के बाद ब्रॉक लैसनर को अपने विरोधी के रूप में चुना था और इसके बाद से ही ड्रू टाइटल स्टोरीलाइन का हिस्सा रहे हैं। WWE चैंपियन बनने के बाद उनका कद बढ़ गया।

पिछले साल चैंपियनशिप हारने के बाद उन्होंने एक बार फिर टाइटल पर कब्जा किया। Elimination Chamber में चैंपियनशिप मैच में हार के बाद भी मैकइंटायर टाइटल स्टोरीलाइन का हिस्सा थे। उन्हें इस स्टोरीलाइन में रहते हुए काफी समय हो गया था और अब बदलाव की जरूरत थी। इस वजह से बॉबी लैश्ले ने अपने टाइटल को रिटेन किया।

2- बॉबी लैश्ले और ब्रॉक लैसनर के ड्रीम मैच की संभावनाएं जारी रखने के लिए

बॉबी लैश्ले और ब्रॉक लैसनर के बीच हर कोई मैच देखना चाहता है। अब तक मुकाबला संभव नहीं हो पाया है लेकिन मौजूदा समय में WWE के पास काफी अच्छा मौका रहेगा। फैंस की वापसी के बाद ब्रॉक लैसनर WWE में नजर आ सकते हैं। इसके बाद किसी तरह से उनके बीच मैच तय हो सकता है।

अगर बॉबी लैश्ले चैंपियनशिप हार जाते तो शायद ब्रॉक लैसनर के साथ उनका मैच नहीं होता। उनके चैंपियन रहते यह चीज़ संभव है क्योंकि लैसनर अपने WWE टाइटल को फिर हासिल करना चाहेंगे। WWE ने बॉबी लैश्ले को चैंपियन बनाए रखा ताकि ब्रॉक लैसनर की वापसी के बाद उनका ड्रीम मुकाबला प्लान किया जा सके।

1- बॉबी लैश्ले को एक लंबा टाइटल रन देने के लिए

बॉबी लैश्ले ने बतौर चैंपियन काफी अच्छा काम किया है। उन्हें चैंपियन रहते हुए 111 दिनों से ज्यादा हो गए हैं लेकिन उन्होंने अबतक किसी फैन को निराश नहीं किया। लैश्ले ने काफी सालों के इंतजार के बाद WWE टाइटल पर कब्जा किया था और वो कुछ ही महीनों में टाइटल हार जाते तो फैंस काफी निराश होते।

इस वजह से WWE ने उन्हें चैंपियन बनाए रखा। बॉबी लैश्ले का टाइटल रन लंबा करने के लिए WWE ने यह निर्णय लिया। ऑल माइटी को कम से कम 250 दिनों तक चैंपियन तो जरूर रहना चाहिए और ड्रू मैकइंटायर पर उनकी जीत देखकर भी साफ लग रहा है कि WWE इसी बारे में सोच रहा है।

ये भी पढ़ें:- WWE Hell in a Cell रिजल्ट्स LIVE: 20 जून 2021

Quick Links

Edited by Ujjaval Palanpure
Be the first one to comment