Create
Notifications

WWE Raw 21 अक्टूबर, 2019: शो की सबसे अच्छी और बुरी बातें

यूनिवर्सल चैंपियन सैथ रॉलिंस
यूनिवर्सल चैंपियन सैथ रॉलिंस
Neeraj sharma

यह मानने वाली बात है कि इस हफ्ते रॉ कई मायनों में अच्छी साबित हुई है और ऐसा कहना भी गलत नहीं होगा कि मैच और सैगमेंट्स विंस मैकमैहन से ज्यादा पॉल हेमन ने फिक्स किए हों। 3 घंटे कब बीत गए पता ही नहीं चला क्योंकि फाइट्स का स्तर अच्छा होने के साथ साथ शो की शुरुआत और समाप्ति भी अच्छी ही रही।

ड्रू मैकइंटायर की वापसी से लेकर केविन ओवेंस द्वारा लगाए गए एजे स्टाइल्स पर स्टनर तक शो की ज्यादातर चीजें फैंस को आकर्षित करने के लिए काफी साबित हुई हैं। हालांकि इस हफ्ते रॉ में विमेंस सुपरस्टार का ना होना जरुर कुछ फैंस को नाराज कर चला है।

इन्हीं सब चीजों को ध्यान में रखते हुए इस आर्टिकल में हम आपके सामने रखने वाले हैं इस हफ्ते रॉ की कुछ सबसे अच्छी और बुरी बातें।

यह भी पढ़ें: रॉ में विमेंस सुपरस्टार्स के मौजूद ना होने का कारण सामने आया

# पॉल हेमन और रे मिस्टीरियो का प्रोमो- अच्छा

जब भी किसी सुपरस्टार को उसकी मातृभाषा में बोलने का मौका दिया जाता है वो बड़े ही आत्मविश्वास के साथ बोलता है, फिर चाहे वो रे मिस्टीरियो हों या फिर असुका। हालांकि मिस्टीरियो के प्रोमो का अधिकतर हिस्सा स्पेनिश भाषा में रहा लेकिन क्राउड इस पूर्व चैंपियन के शब्दों को कुछ हद तक समझ पा रहे थे।

तभी पॉल हेमन टीवी स्क्रीन पर नजर आए, वो भी ब्रॉक लैसनर के एडवोकेट के रूप में ना कि रॉ के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर के रूप में। इस शब्दों के आदान-प्रदान के बीच शेल्टन बेंजामिन ने भी एंट्री ली और चोटिल मिस्टीरियो पर हमला करने की कोशिश की।

हालांकि केन वैलासकेज़ अपने साथी के बचाव में रिंग में जरुर उतरे मगर पूर्व चैंपियन मिस्टीरियो को अपने बचाव में खुद कुछ करना चाहिए था क्योंकि वो खुद पूर्व चैंपियन रह चुके हैं।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

# केन वैलासकेज़ के पंच- बुरा

दुनिया भर से रोज सोशल मीडिया पर इस बात बहस छिड़ी होती है कि प्रोफेशनल रेसलिंग के मूव्स पूरी तरह असली नहीं होते और केन वैलासकेज़-शेल्टन बेंजामिन के सैगमेंट ने यह साबित भी कर दिया है।

चाहे वैलासकेज़ ट्रेनिंग ले रहे हैं और कुछ प्रो रेसलिंग फाइट्स लड़ भी चुके हैं लेकिन उन्हें अभी इतना अनुभव नहीं हुआ है कि वो किसी पीपीवी में वर्ल्ड टाइटल के लिए चैलेंज कर सकें। वो किसी नौसिखिये की तरह पंच लगा रहे थे।

यह भी पढ़ें: केन वैलासकेज़ और रे मिस्टीरियो मेक्सिको में रॉ के बड़े सुपरस्टार्स का सामना करेंगे

# सैथ रॉलिंस बनाम कारिलो- अच्छा

मैच के बाद कारिलो ने एक प्रोमो दिया था जिससे साफ पता चलता है कि वो अंग्रेजी भाषा में ज्यादा अच्छे नहीं हैं। इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि कारिलो और रॉलिंस के बीच बेहतरीन फाइट लड़ी गई और उन्होंने दर्शा दिया है कि वो बड़े स्टार बनने के पूरे हक़दार हैं।

वो कहते हैं ना, कभी-कभी हार भी जीत से ज्यादा मायने रखती है और कारिलो के साथ यही हुआ है। मुकाबले को देखकर ऐसा कहना गलत नहीं होगा कि इनके बीच आने वाले समय में और भी मैच जरुर होने चाहिएं।

# सैथ रॉलिंस और द फीन्ड का अलग-अलग ब्रांड्स में मौजूद रहना- बुरा

कुछ समय से ऐसा कहा जा रहा था कि FOX के अधिकारी ब्रे वायट के फायरफ्लाई फन हाउस शो को पसंद नहीं कर रहे हैं। यही कारण रहा कि रॉलिंस ने फायरफ्लाई फन हाउस शो के सेट को आग के हवाले कर दिया था।

WWE ड्राफ्ट में दोनों को अलग-अलग कर दिया गया है लेकिन इसके बावजूद क्राउन ज्वेल पीपीवी में ये दोनों एक-दूसरे का सामना करने वाले हैं। इससे यूनिवर्सल चैंपियनशिप फ्यूड के साथ नाइंसाफी हो रही है और कुछ नहीं।

यह भी पढ़ें: Wrestlemania36 के लिए द रॉक के 4 संभावित प्रतिद्वंदी

# ड्रू मैइंटायर और रिकोशे के मैच से हुई शो की शुरुआत- अच्छा

ड्रू मैकइंटायर को अब क्राउन ज्वेल में होने वाले 10-मैन टैग टीम मैच के लिए टीम फ्लेयर का हिस्सा बना दिया गया है। रॉ के शुरुआती मैच में उनका सामना रिकोशे से हुआ और जीत भी हासिल हुई है।

इस मैच की अच्छी बात यह रही कि वापसी के तुरंत बाद मैकइंटायर को जीत मिली और अगर उन्हें हार मिलती तो उनका हील कैरेक्टर संभव ही कमजोर पड़ जाता। वहीं रिकोशे लगातार खुद को एक बेहतरीन इन रिंग परफ़ॉर्मर साबित करते आ रहे हैं इसलिए बेहतर होगा कि WWE इनके बीच और भी मुकाबले फिक्स करे।

# पूरे शो में विमेंस सुपरस्टार्स की गैरमौजूदगी- बुरा

WWE की ज्यादातर विमेंस सुपरस्टार्स फिलहाल ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर रही हैं लेकिन पूरे शो में किसी भी महिला रेसलर का नजर ना आना फैंस को नाराज कर चला है। लाना और ज़ेलिना वेगा के अलावा कोई दूसरी विमेंस सुपरस्टार रिंग में तो क्या ओ-स्क्रीन भी नजर नहीं आई।

यह बेहद ही शर्मनाक बात है क्योंकि साल 2019 विमेंस सुपरस्टार्स के ही नाम रहा है इसलिए किसी शो में चैंपियन रेसलर्स का मौजूद ना रहने से फैंस नाराज नहीं होंगे तो और क्या होगा।

हालांकि क्राउन ज्वेल पीपीवी का आयोजन भी जल्द ही होने वाला है, जो सऊदी अरब में होना है। सऊदी अरब में विमेंस सुपरस्टार्स को रिंग में फाइट करने की इजाजत नहीं है और यह फिलहाल के लिए सबसे बड़ा कारण समझा जा सकता है कि क्यों इस हफ्ते रॉ में विमेंस क्यों नजर नहीं आई।

यह भी पढ़ें: 5 कारण क्यों ब्रॉन स्ट्रोमैन इस दौर के बिग शो बन चुके हैं

# लैश्ले और लाना- अच्छा/बुरा

हमने पहले भी ऐसी कई स्टोरीलाइंस देखी हैं लेकिन लैश्ले-लाना-रुसेव की स्टोरीलाइन फैंस को खुद से कनेक्ट करने में अभी तक नाकाम रही है। तीनों सुपरस्टार्स अपना बेस्ट देने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन इसमें कुछ ना कुछ दिक्कत जरुर है जिसके कारण क्राउड इसे लगातार नापसंद कर रहा है।

अगर क्राउन ज्वेल के टीम होगन बनाम टीम फ्लेयर मैच में इस दुश्मनी को एक नई दिशा मिलती है तो वह देखने योग्य लम्हा होगा क्योंकि रुसेव और लैश्ले एक दूसरे के प्रतिद्वंदी हैं। अगर आगामी पीपीवी में इस दुश्मनी को नई दिशा नहीं मिली तो इस लव ट्रायंगल स्टोरीलाइन पर पानी फिर जाएगा।

रॉ में रुसेव की सबसे अच्छी बात यह रही कि उन्होंने क्राउड से मिल रहे 'What' चैंट का बेहद अनोखे अंदाज में जवाब दिया था।

यह भी पढ़ें: 3 बड़े कारण क्यों रेसलमेनिया 36 में अंडरटेकर और द फीन्ड के बीच मैच जरुर होना चाहिए

Edited by PANKAJ

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...