क्रिकेट

क्रिकेट जगत की दिनभर की बड़ी खबरें: 14 जून 2018

अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट के पहले दिन शिखर धवन का जबरदस्त रिकॉर्ड

INDvAFG, पहला दिन: मुरली विजय और शिखर धवन के शतक के बाद अफगानिस्तान ने की वापसी

भारतीय टीम ने अफगानिस्तान के खिलाफ बैंगलोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे एकमात्र टेस्ट मैच के पहले दिन मजबूत स्कोर बना लिया है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने पहले दिन स्टंप्स के समय 6 विकेट के नुकसान पर 347  रन बना लिए हैं। शिखर धवन और मुरली विजय ने शतक जड़ा, वहीं केएल राहुल ने अर्धशतक लगाया। रविचंद्रन अश्विन 7 और हार्दिक पांड्या 10 रन बनाकर क्रीज पर हैं। अफगानिस्तान का ये पहला अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट मैच है और इसके साथ ही अफगानिस्तान टेस्ट मैच खेलने वाली 13वीं टीम बन गई है। वहीं भारत की तरफ से दिनेश कार्तिक 8 साल बाद कोई टेस्ट मैच खेल रहे हैं।



INDvAFG, एकमात्र टेस्ट: पहले दिन बने सभी आंकड़ों पर एक नज़र

भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेलने वाला चौथा देश बना अफगानिस्तान। इससे पहले पाकिस्तान (1952), ज़िम्बाब्वे (1992) और बांग्लादेश (2000) ने अपना पहला टेस्ट भारत के खिलाफ खेला था।

शिखर धवन ने अपना सातवां शतक लगाया और पहले दिन लंच से पहले शतक पूरा करने वाले विश्व के सिर्फ छठे बल्लेबाज बने। उनसे पहले यह रिकॉर्ड विक्टर ट्रम्पर (vs इंग्लैंड, 1902), चार्ल्स मैकार्टनी (vs इंग्लैंड, 1921), डॉन ब्रैडमैन (vs इंग्लैंड, 1930), माजिद खान (vs न्यूज़ीलैंड, 1976) और डेविड वॉर्नर (vs पाकिस्तान, 2017) के नाम था। भारत की तरफ से पिछला रिकॉर्ड वीरेंदर सहवाग (99 vs वेस्टइंडीज, 2006) के नाम था।


 

INDvEND: पहले दिन के खेल के बाद ट्विटर पर प्रतिक्रियाएं



 

INDvAFG: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान को उनके पहले टेस्ट मैच के लिए दी शुभकामनाएं

अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "अफगानिस्तान की टीम अपना पहला टेस्ट मैच खेल रही है। इसके लिए अफगानिस्तान को ढेर सारी शुभकामनाएं। मुझे खुशी हो रही है कि उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच के लिए भारत को चुना। मेरी शुभकामनाएं दोनों टीमों के साथ हैं। उम्मीद है कि खेल के जरिए इसी तरह से दोनों देशों के लोग एक दूसरे के करीब आएंगे और आपसी रिश्ते मजबूत होंगे।'



 

स्मृति मन्धाना को इंग्लैंड के महिला टी20 टूर्नामेंट के लिए साइन किया गया

इंग्लैंड में इस बार होने वाले सुपर लीग टी20 टूर्नामेंट के लिए भारतीय महिला ओपनर स्मृति मन्धाना को साइन किया गया है। इस लीग की तरफ से खेलने वाली वह पहली भारतीय महिला बन जाएंगी। उन्हें डिफेंडिंग चैंपियन वेस्टर्न स्टॉर्म की तरफ से खेलने का अवसर मिलेगा। इस टीम की वह दूसरी विदेशी खिलाड़ी हैं।


 

जवागल श्रीनाथ और एस रवि को आईसीसी ने एलिट पैनल के लिए रिटेन किया

अम्पायरों के पैनल में अलीम दार, कुमार धर्मसेना, मरे इरास्मस, क्रिस गैफनी, इयन गूल्ड, रिचर्ड इलिंगवर्थ, रिचर्ड केटलब्रो, नाइजल लॉन्ग, ब्रूस ऑक्सनफॉर्ड, एस रवि, पॉल रेफेल और रॉड टकर हैं। आईसीसी के मैच रेफरी पैनल में डेविड बून, क्रिस ब्रॉड, जेफ़ क्रो, रंजन मदुगले, एंडी पाइक्रॉफ्ट, जवागल श्रीनाथ और रिची रिचर्डसन हैं।



मोहम्मद कैफ ने सौम्या स्वामीनाथन के ईरान में नहीं खेलने का फैसला सही बताया

ईरान में महिलाओं को हिजाब पहनने की अनिवार्यता के चलते भारतीय शतरंज स्टार सौम्या स्वामीनाथन ने एशियन गेम्स से अपना नाम वापस ले लिया। इसको लेकर भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने प्रतिक्रिया देते हुए सौम्या के फैसले का खुलकर समर्थन किया और कहा कि इस तरह धार्मिक बाध्यता हर किसी पर थोपना गलत है।



महेंद्र सिंह धोनी ने मुझे काफी प्रेरित किया है: मोहम्मद शहजाद

मोहम्मद शहजाद अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के चर्चित खिलाड़ियों में से एक हैं और उनकी धुआंधार बल्लेबाजी फैंस को भी बेहद पसंद है। मोहम्मद शहजाद धोनी की बल्लेबाजी के बड़े फैन हैं और खासतौर पर उनके हेलीकॉप्टर शॉट के। क्रिकबज से बातचीत में शहजाद ने खुलासा किया कि वो दो चीजों से समझौता बिल्कुल भी नहीं कर सकते हैं और वो है खाना और सोना।


 

‘राशिद खान को टीम में लाने के लिए मुझे कप्तान असगर स्टैनिकज़ाई के साथ काफी मशक्कत करनी पड़ी थी’

स्पोर्ट्सकीड़ा से खास बातचीत में अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ शफीक स्टैनिकज़ाई ने बताया कि उन्हें असगर स्टैनिकज़ाई से राशिद खान को टीम में शामिल करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। उन्होंने कहा कि अंडर-19 का एक मैच चल रहा था और ये एक ट्रायल गेम की तरह था। मैंने मुख्य चयनकर्ता से पूछा कि आप मुझे क्या दिखाना चाहते हैं। उन्होंने मुझसे कहा कि चारों तरफ देखिए आपको कुछ ना कुछ जरूर मिलेगा। तभी मैंने राशिद खान को गेंदबाजी करते हुए देखा और पूछा कि क्या मैं यहां पर सिर्फ इस गेंदबाज के लिए आया हूं। उन्होंने कहां हां। मैंने राशिद खान की गेंदबाजी देखी और उससे काफी प्रभावित हुआ। उसके बाद राशिद अंडर-19 टीम का हिस्सा बने। हालांकि जब 2015 में अफगानिस्तान की टीम जिम्बाब्वे का दौरा कर रही थी तब मैं राशिद खान को सीनियर टीम में लेना चाहता था। इसके लिए मुझे कप्तान असगर स्टैनिकज़ाई को मनाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी।